ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 179




                                               

मैक्मरडो खाड़ी

मैक्मरडो खाड़ी अंटार्कटिका में एक ५५ किमी चौड़ी बर्फ़ग्रस्त खाड़ी है। इसके जल उत्तर में रॉस सागर से मिलते हैं। मैक्मरडो खाड़ी का अधिकांश हिस्सा मैक्मरडो हिमचट्टान से ढका हुआ है लेकिन कुछ अंश नौगम्य है, यानि उसपर नौका चलाई जा सकती है। वास्तव में य ...

                                               

लुटज़ो-होल्म खाड़ी

लुटज़ो-होल्म खाड़ी पूर्वी अंटार्कटिका के रानी मौड धरती क्षेत्र से किनारा करती हुई एक २२० किमी चौड़े मुख वाली बड़ी खाड़ी है। यह रीज़र-लार्सन प्रायद्वीप से पूर्व में और फ़्लातवेर द्वीपों के समीप स्थित अंटार्कटिका की मुख्यभूमि के तट से पश्चिम में वि ...

                                               

विलियम स्कोर्ज़बी खाड़ी

विलियम स्कोर्ज़बी खाड़ी पूर्वी अंटार्कटिका के विलियम स्कोर्ज़बी द्वीपसमूह के पश्चिमी ओर स्थित एक खाड़ी है। यह ८ किलोमीटर लम्बी और ५.६ किमी चौड़ी है।

                                               

कच्छ की खाड़ी

कच्छ की खाड़ी गुजरात राज्य के उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में कच्छ जिला और जामनगर जिले के मध्य स्थित है। इस खाड़ी के पश्चिम में अरब सागर स्थित है। वैसे यह खाड़ी अरब सागर का ही एक हिस्सा है। गुजरात की पश्चिमी सीमा में १६०० कि. मी. लंबा समुद्र तट है जो भा ...

                                               

इथाका घाटी (टॅथिस)

इथाका घाटी हमारे सौर मंडल के छठे ग्रह शनि के उपग्रह टॅथिस पर स्थित एक खगोलवैज्ञानिकों में प्रसिद्ध तंग घाटी है। यह १०० किलोमीटर चौड़ी, ३ से ५ किमी गहरी और २,००० किमी लम्बी है और टॅथिस के पूरे व्यूह के तीन-चौथाई हिस्से तक चलती है। इसकी चौड़ाई जगह- ...

                                               

तोद्रा वादी

तोद्रा वादी उत्तरी अफ़्रीका के मोरक्को देश में एटलस पर्वत शृंखला में तोद्रा नदी द्वारा काटी गई एक तंग घाटी है। यह तोद्रा नदी ने इन पहाड़ों में अपने अंतिम 40 किमी में काटी है, जिसके बिलकुल आख़िर के 600 मीटर देखने के क़ाबिल हैं क्योंकि यहाँ पर जगह- ...

                                               

यरलुंग त्संगपो महान घाटी

यरलुंग त्संगपो महान घाटी, जिसे त्संगपो तंग घाटी भी कहते हैं, दक्षिणी तिब्बत में यरलुंग त्संगपो नदी द्वारा बनागई एक बहुत ही बड़ी तंग घाटी है। कुछ स्रोतों के अनुसार यह दुनिया की सबसे गहरी तंग घाटी है और, अमेरिका के ग्रैन्ड कैन्यन से ज़रा लम्बी होने ...

                                               

त्सो कार

त्सो कार या शो कार झील, जो अपने बृह्त आकाऔर गहराई के लिए जाना जाता है, जम्मू-कश्मीर के लद्दाख के दक्षिणी भाग में रूशु पठाऔर घाटी में स्थित एक उतार-चढ़ाव वाली खारी झील है।

                                               

बाल्काश झील

बाल्काश झील मध्य एशिया के क़ाज़ाख़स्तान देश में स्थित एक विशाल झील है। यह एशिया की सबसे बड़ी झीलों में से एक है। इसका कुल क्षेत्रफल १६,४०० किमी २ है, लेकिन इसमें पानी डालने वाली नदियों से सिंचाई के लिए पानी खिचने की वजह से इसका आकार घट रहा है। बी ...

                                               

लोनार झील

लोनार झील महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में स्थित एक खारे पानी की झील है। इसका निर्माण एक उल्का पिंड के पृथ्वी से टकराने के कारण हुआ था। स्मिथसोनियन संस्था, संयुक्त राज्य भूगर्भ सर्वेक्षण, सागर विश्वविद्यालय और भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला ने इस स्थल क ...

                                               

हीलियर झील

झील Hillier है एक नमकीन झील के किनारे पर बीच द्वीपके सबसे बड़े द्वीपों और islets कि मेकअप Recherche द्वीपसमूह में Goldfields-Esperance क्षेत्र के दक्षिण तट पर पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया. यह विशेष रूप से उल्लेखनीय के लिए उसके गुलाबी रंग का होता है। एक लं ...

                                               

पचपदरा झील

पचपदरा झील राजस्थान की एक खारे पानी की झील है जो राज्य के बाड़मेर ज़िले के बालोतरा तहसील के पचपदरा गाँव में स्थित है। इस झील से नमक का उत्पादन होता है। इस झील में खारवाल जाति के लोग मोरली झाड़ी के उपयोग द्वारा नमक के स्फटिक बनाते हैं। मुख्यतः हीर ...

                                               

नमक का मैदान

भौगोलिक दृष्टि से नमक के मैदान किसी खारी झील के स्थायी या अस्थायी रूप से सूख जाने पर बन जाते हैं। प्रायः यह बन्द जलसम्भर वाले क्षेत्रों में बनते हैं। ऐसे बंद जलसंभर क्षेत्रों में वर्षा अथवा पिघलती बर्फ़ का पानी एकत्रित हो कर किसी नदी के ज़रिये सम ...

                                               

सालार दे उयुनी

सालार दे उयुनी, जिसे सालार दे तुनुपा भी कहा जाता है, दुनिया का सबसे बड़ा नमक का मैदान है। १०,५८२ वर्ग किमी के क्षेत्रफल वाला यह नमक का मैदान बोलिविया के पोतोसी व ओरूरो विभागों में स्थित है। यह ३,६५६ मीटर की ऊँचाई पर ऐन्डी पर्वत शृंखला के छोपर स्थ ...

                                               

काइदू नदी

काइदू नदी मध्य एशिया में जनवादी गणतंत्र चीन द्वारा नियंत्रित शिंजियांग प्रान्त की एक नदी है। यह नदी तियान शान पर्वतमाला की दक्षिण-मध्य ढलानों में युल्दुज़ द्रोणी से उत्पन्न होती है और यान्ची द्रोणी से होती हुई बोस्तेन झील में विलय हो जाती है। झील ...

                                               

काबुल नदी

काबुल नदी एक ७०० किमी लम्बी नदी है जो अफ़ग़ानिस्तान में हिन्दु कुश पर्वतों की संगलाख़ शृंखला से शुरू होकर पाकिस्तान के अटक शहर के पास सिन्धु नदी में विलय हो जाती है। काबुल नदी पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान की मुख्य नदी है और इसका जलसम्भर हेलमंद नदी के जलस ...

                                               

कारा दरिया

कारा दरिया, जिसे कभी-कभी क़ारादरियो भी उच्चारित किया जाता है, मध्य एशिया क्षेत्र में किर्गिज़स्तान और पूर्वी उज़बेकिस्तान में बहने वाली सिर दरिया नदी की एक प्रमुख उपनदी है।

                                               

काराकाश नदी

काराकाश नदी भारत के अक्साई चिन क्षेत्र के कराकोरम पर्वतों में सुम्दे इलाक़े से उत्पन्न होकर चीन के शिंजियांग प्रांत की कुनलुन पहाड़ी क्षेत्र से गुज़रकर टकलामकान रेगिस्तान में जाने वाली एक नदी का नाम है। वर्तमान में अक्साई चिन पर चीन का क़ब्ज़ा है ...

                                               

कोकचा नदी

कोकचा नदी उत्तरी अफ़ग़ानिस्तान की एक नदी है। यह आमू दरिया की एक उपनदी है और बदख़्शान प्रान्त में हिन्दू कुश पहाड़ों में बहती है। बदख़्शान प्रान्त की राजधानी फैज़ाबाद इसी नदी के किनारे बसी हुई है। कोकचा नदी की घाटी में सर-ए-संग खान स्थित है जहाँ स ...

                                               

तलास नदी

तलास नदी मध्य एशिया के किर्गिज़स्तान देश के तलास प्रांत से उत्पन्न होंकर पश्चिम में काज़ाख़स्तान में बहने वाली एक नदी है जो कराकोल नदी और उच-कोशोय नदी के संगम से बनती है। तलास नदी पर किर्गिज़स्तान के तलास प्रांत और तलास शहर का नाम पड़ा है। यह काज ...

                                               

तारिम नदी

तारिम नदी चीन के शिंजियांग प्रांत की मुख्य नदी है। इसी नदी के नाम पर महान तारिम द्रोणी का नाम पड़ा है, जो मध्य एशिया में कुनलुन पर्वतों और तियान शान पर्वतों के बीच और तिब्बत के पठार से उत्तर में स्थित है। १,३२१ किलोमीटर लम्बा यह दरिया चीन की सबसे ...

                                               

नारीन नदी

नारीन नदी मध्य एशिया क्षेत्र में किर्गिज़स्तान और उज़बेकिस्तान में बहने वाली सिर दरिया नदी की एक प्रमुख उपनदी है। यह ८०७ किमी लम्बी नदी किर्गिज़स्तान के तियान शान पहाड़ों में उभरती है और पश्चिम में फ़रग़ना वादी और उज़्बेकिस्तान में दाख़िल होकर का ...

                                               

फ़राह नदी

फ़राह नदी या फ़राह रूद पश्चिमी अफ़ग़ानिस्तान की एक ५६० किमी लम्बी नदी है जो बंद-ए-बायान पहाड़ों से उभरकर ईरान और अफ़ग़ानिस्तान की सरहद पर सीस्तान द्रोणी में स्थित हेलमंद नदी के नदीमुख क्षेत्र में जाकर ख़ाली हो जाती है। अफ़ग़ानिस्तान के फ़राह प्रा ...

                                               

मुज़ार्त नदी

मुज़ार्त नदी, जिसे कभी-कभी मुज़ात नदी भी कहते हैं, जनवादी गणतंत्र चीन द्वारा नियंत्रित शिंजियांग प्रान्त के आक़्सू विभाग में बहने वाली एक नदी का नाम है। यह तारिम नदी की एक उपनदी है और उसमें बाई तरफ़ से विलय होती है। २०वीं सदी की शुरुआत के कुछ स्र ...

                                               

यारकन्द नदी

यारकन्द नदी मध्य एशिया में चीन के शिनजियांग प्रांत में बहने वाली एक नदी है। यह शिनजियांग के काश्गर विभाग में काराकोरम पहाड़ों में उत्पन्न होती है। कुछ दूरी में इसमें शक्सगाम नदी आकर विलय करती है। यहाँ के स्थानीय किरगिज़ लोग इस इलाक़े की यारकन्द न ...

                                               

योरुंगकाश नदी

योरुंगकाश नदी चीन के शिंजियांग प्रांत की कुनलुन पहाड़ी क्षेत्र से उत्पन्न होने वाली एक नदी का नाम है। यह २०० किमी तक पूर्व की ओर बहती है और फिर २०० किमी उत्तर की तरफ, जिसके बाद यह प्रसिद्ध ख़ोतान नगर से उत्तर में निकलती है। इसके बाद यह टकलामकान र ...

                                               

शक्सगाम नदी

शक्सगाम नदी सुदूर उत्तरी कश्मीर के काराकोरम पर्वतों से उभरने वाली एक नदी है जो यारकन्द नदी की एक उपनदी भी है। शक्सगाम नदी को केलेचिन नदी और मुज़ताग़ नदी के नामों से भी जाना जाता है। यह काराकोरम शृंखला की गाशेरब्रुम, उरदोक, स्ताग़र, सिन्ग़ी और क्य ...

                                               

सफ़ीद नदी

सफ़ीद नदी उत्तरी अफ़्ग़ानिस्तान की एक नदी है जो सर-ए-पोल प्रान्त से शुरू होती है। यह फिर उत्तर को बहकर जोज़जान प्रान्त में दाख़िल होती है। उस प्रांत की राजधानी शबरग़ान से गुज़रकर यह काराकुम रेगिस्तान के छोपर पहुँच कर सूख जाती है। भूवैज्ञानिकों और ...

                                               

सरी सू नदी

सरी सू नदी या सरीसू नदी मध्य काज़ाख़​स्तान में बहने वाली एक नदी है। यह काराग़ान्दी प्रांत में अतासू क्षेत्र में उत्पन्न होती है और पहले पश्चिम किज़िल-द्झ़ार​ की तरफ और फिर मुड़कर दक्षिणपश्चिम की ओर चलती है। बिरलेस्तिक और झ़ानाबास नामक बस्तियों के ...

                                               

अनादिर नदी

अनादिर रूस के सुदूर पूर्वी प्रदेश की एक नदी है। यह पहाड़, बंदरअंरीप से दक्षिण के नावारिन अंतरीप तक विस्तृत है। यह लगभग ३७० किमी चौड़ी है और बेरिंग सागर का एक भाग है। अनादिर नदी कोलाइमा, अनादिर तथा कमचटका पर्वतश्रेणियों के मध्य से लगभग ६७° उ.अ. तथ ...

                                               

दोन नदी

दोन नदी, जिसे अंग्रेज़ी में डॉन नदी भी उच्चारित किया जाता है, रूस की एक प्रमुख नदी है। यह मास्को से दक्षिण-पूर्व में स्थित नोवोमोस्कोव्स्क ​ शहर के पास शुरू होती है और १,९५० किलोमीटर बहकर आज़ोव सागर में जा मिलती है। इस नदी के किनारे बसा सब से बड़ ...

                                               

फ़िलिपीन गर्त

फ़िलिपीन गर्त, जो कभी-कभी मिन्दनाओ गर्त भी कहलाता है, पश्चिमी प्रशांत महासागर के फ़िलिपीन सागर भाग में स्थित एक १,३२० किमी तक चलने वाला एक महासागरीय गर्त है। इस गर्त की चौड़ाई लगभग ३० कि॰मी॰ है और इसका सबसे गहरा बिन्दु समुद्रतल से लगभग १०,५४० मीट ...

                                               

सुन्दा गर्त

सुन्दा गर्त, जो पहले जावा गर्त कहलाता था, पूर्वोत्तरी हिन्द महासागर में स्थित एक ३,२०० किमी तक चलने वाला एक महासागरीय गर्त है। इस गर्त की सर्वाधिक गहराई ७,७२५ मीटर है जो 10°19 दक्षिण, 109°58 पूर्व के निर्देशांक पर इण्डोनेशिया के योग्यकार्ता क्षेत ...

                                               

रूपकुण्ड

रूपकुंड भारत उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले में स्थित एक हिम झील है जो अपने किनारे पर पाए गये पांच सौ से अधिक मानव कंकालों के कारण प्रसिद्ध है। यह स्थान निर्जन है और हिमालय पर लगभग 5029 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इन कंकालों को 1942 में नंदा देवी श ...

                                               

ग्रीनलैण्ड हिमचादर

ग्रीनलैण्ड हिमचादर ग्रीनलैण्ड के ८०% भूभाग पर विस्तृत एक हिमचादर है। इसका कुल फैलाव १७,१०,००० वर्ग किमी पर है। अंटार्कटिक हिमचादर के बाद यह पृथ्वी का दूसरा सबसे बड़ा हिम का विस्तार है। यह हिमचादर उत्तर-दक्षिण दिशा में २,४०० किमी तक फैली हुई है, ज ...

                                               

तीरथगढ़ जलप्रपात

तीरथगढ़ के झरने छत्तीसगढ़ के बस्तर ज़िले में कांगेर घाटी पर स्थित कई झरने है। तीरथगढ़ झरनों को घूमने के लिए अक्टूबर-फरवरी का समय सबसे बेहतर है। तीरथगढ़ झरने भारत के सबसे ऊँचे झरनों में से एक है। तीरथगढ़ झरनों पर पिकनिक का आनंद उठाया जा सकता है। त ...

                                               

दूधसागर जलप्रपात

दूधसागर जलप्रपात एक चार स्तरों वाला एक जलप्रपात हैं जो भारतीय राज्य कर्नाटक और गोवा की सीमा पर स्थित हैं। यह सड़क मार्ग से पणजी से 60 किलोमीटर दूर है और मडगांव-बेलगाम रेल मार्ग पर मडगांव से 46 किमी पूर्व में और बेलगाम से 80 किमी दक्षिण मडगांव-बेल ...

                                               

पानी का चश्मा

अंग्रेज़ी में चश्मे को "स्प्रिंग" spring बोलते हैं कश्मीरी में चश्मे को "नाग" बोलते हैं। कई कश्मीरी जगहों के नाम में यह आता है जैसे अनंतनाग यानि वह स्थान जहाँ चश्मे ही चश्मे हों और कोकरनाग यानि मुर्ग़ी वाला चश्मा - संस्कृत में मुर्ग़ी को "कुक्कुट ...

                                               

महासागर

महासागर जलमंडल का प्रमुख भाग है। यह खारे पानी का विशाल क्षेत्र है। यह पृथ्वी का 71% अपने आप से ढांके रहता है | जिसका आधा भाग ३००० मीटर गहरा है। प्रमुख महासागर निम्नलिखित हैं: १ प्रशान्त महासागर en:Pacific Ocean २ अटलांटिक महासागर en:Atlantic Ocea ...

                                               

लावा ट्यूब

लावा ट्यूब एक प्राकृतिक रूप से बनी हुई पाइप, ट्यूब या सुरंग की आकृति का ढांचा होता है जो लावा बहाव से बन जाता है। यह किसी लावा नहर कि सतह पर ठंडे हुए लावा के जमकर ठोस हो जाने के बाद उसके नीचे लगातार लावा बहते रहने से निर्मित होता है। लावा ट्यूबें ...

                                               

लावा नहर

लावा नहर लावा की एक चलती धारा होती है जो ठोस लावा के दो किनारों के बीच बहती है। आरम्भ में यह किनारे नहीं होते लेकिन किसी ढलान पर बहते-बहते लावा ठंडा होकर किनारे बना लेता है और फिर लावा उनके बीच के बने हुए नाले में बहने लगता है। कभी-कभी यदि बहते ल ...

                                               

तोमानीवी पर्वत

तोमानीवी पर्वत, जो पहले विक्टोरिया पर्वत कहलाता था, प्रशांत महासागर में स्थित फ़िजी देश का सबसे ऊँचा पर्वत है। यह उस देश के विति लेवु द्वीप की उत्तरी उच्चभूमियों में खड़ा है और वास्तव में एक मृत ज्वालामुखी है। विति लेवु द्वीप की मुख्य नदियाँ - रे ...

                                               

फू बिया

फू बिया लाओस का सबसे ऊँचा पर्वत है। यह सिएंगखुअंग प्रान्त में सिएंगखुअंग पठार की दक्षिणी सीमा पर अन्नामी पहाड़ियों में स्थित है। अपनी ऊँचाई के कारण इसके शिखर पर मौसम ठंडा रहता है और इसके आसपास के क्षेत्पर कोहरा और बादल बने रहते हैं। यह पूरा क्षेत ...

                                               

क्रॉसोवर दर्रा

क्रॉसोवर दर्रा अंटार्कटिका के कोट्स धरती क्षेत्र की शैकलटन पर्वतमाला में गॉर्डन हिमानी और कॉर्नवल हिमानी के बीच स्थित एक पहाड़ी दर्रा है।

                                               

मार्टिन प्रायद्वीप

मार्टिन प्रायद्वीप अंटार्कटिका की मारी बर्ड धरती के तट पर गेट्ज़ हिमचट्टान और डॉट्सन हिमचट्टान के बीच स्थित एक प्रायद्वीप है। यह 96 किमी लम्बा और 32 किमी चौड़ा है। इसका अधिकांश भाग बर्फ़ से ढका हुआ है लेकिन इसके कुछ किनारों पर पत्थरीली भूमि दिखती ...

                                               

रीज़र-लार्सन प्रायद्वीप

अगर आप अंटार्कटिक क्षेत्र की इसी नाम की हिमचट्टान पर जानकारी ढूंढ रहे हैं तो रीज़र-लार्सन हिमचट्टान का लेख देखिये रीज़र-लार्सन प्रायद्वीप पूर्वी अंटार्कटिका के रानी मौड धरती क्षेत्र का एक बड़ा प्रायद्वीप है। यह लुटज़ो-होल्म खाड़ी से बिलकुल पश्चिम ...

                                               

एल्ज़्मेयर द्वीप

एल्ज़्मेयर द्वीप, जिसे इनुइत भाषा में उमिंगमक नूना कहते हैं, कनाडा के नूनावूत राज्यक्षेत्र में स्थित एक द्वीप है। यह कनाडाई आर्कटिक द्वीपसमूह का सदस्य है। इसका क्षेत्रफल 1.96.235 वर्ग किमी है, जो लगभग भारत के गुजरात राज्य के बराबर है लेकिन यह इतन ...

                                               

बैफ़िन द्वीप

बैफ़िन द्वीप, जिसे स्थानीय इनुक्तितुत भाषा में किकिक्तालुक कहा जाता है, कनाडा का सबसे बड़ा और विश्व का पाँचवा सबसे बड़ा द्वीप है। प्रशासनिक रूप से यह नूनावूत राज्यक्षेत्र का भाग है और उस क्षेत्र की राजधानी इकैलूइत इसी द्वीप पर स्थित है। इसका क्षे ...

                                               

ईरान का पठार

ईरान का पठार पश्चिमी एशिया और मध्य एशिया का एक भौगोलिक क्षेत्र है। यह पठार अरबी प्लेट और भारतीय प्लेट के बीच में स्थित यूरेशियाई प्लेट के एक कोने पर स्थित है। इसके पश्चिम में ज़ाग्रोस पर्वत, उत्तर में कैस्पियन सागर व कोपेत दाग़, पश्चिमोत्तर में आ ...

                                               

रामगढ़ क्रेटर

रामगढ़ क्रेटर भारत के राजस्थान राज्य के बाराँ ज़िले के मांगरोल बस्ती के पास स्थित एक क्रेटर है। माना जाता है कि यह आदिकाल में अंतरिक्ष से किसी उल्का गिरने के प्रहार से बना था। इस क्रेटर का व्यास 3.5 किमी है। क्रेटर के किनारे 11वीं शताब्दी में निर ...