ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 223




                                               

मुख्य नियंत्रण सुविधा

मुख्य नियंत्रण सुविधा इसरो की उपग्रह नियंत्रण सुविधा है, जो कि कर्नाटक राज्य के हासन में स्थित है। इसकी स्थापना सन १९८२ में हुई थी। इसका कार्य भारतीय उपग्रहों कि निगरानी और नियंत्रण है।

                                               

मेघा-ट्रापिक्स

मेघा-ट्रापिक्स जलवायु परिवर्तन के संदर्भ में उष्णकटिबंधीय वातावरण में जल चक्र का अध्ययन करने के लिए एक उपग्रह मिशन है। यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन और फ्रांस की अंतरिक्ष अनुसंधान सिनेस के बीच एक सहयोगात्मक प्रयास है। मेघा-ट्रापिक्स सफलतापूर् ...

                                               

रिसोर्ससैट-2ए

रिसोर्ससैट-2ए क्रमशः रिसोर्ससैट-1 और रिसोर्ससैट-2 के मिशन का अनुवर्ती है जिन्हें क्रमशः अक्टूबर, 2003 और अप्रैल, 2011 में लॉन्च किया गया था। नया उपग्रह अन्य रिसोर्ससैट मिशन के समान सेवाओं को प्रदान करता है। यह आपदा प्रबंधन में मदद के साथ-साथ जमीन ...

                                               

रोहिणी (उपग्रह)

रोहिणी भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा शुरू की गई उपग्रहों की एक श्रृंखला है। रोहिणी श्रृंखला में चार उपग्रह थे, जो सभी भारतीय उपग्रह प्रक्षेपण वाहन द्वारा प्रक्षेपित किए गये थे और जिसमे से तीन सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित हो गये। श्रृंखला ...

                                               

रोहिणी(रॉकेट परिवार)

रोहिणी मौसम और वातावरण के अध्ययन के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित रॉकेट की एक श्रृंखला है। ये रॉकेट 2 से के बीच का पेलोड 100 से की ऊंचाई ले जाने में सक्षम हैं। इसरो वर्तमान में आरएच-200, आरएच-300, आरएच-300 और आरएच-560 रॉकेट का ...

                                               

लघु उपग्रह प्रक्षेपण यान

लघु उपग्रह प्रक्षेपण यान या एसएसएलवी पृथ्वी कक्षा की निचली कक्षा में 500 किलोग्राम के लघु उपग्रहों को लॉन्च करने के लिए इसरो द्वारा विकासाधीन लॉन्च-वाहन हैं। लघु उपग्रह प्रक्षेपण की पहली उड़ान सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से 2019 के मध्य में होने की ...

                                               

विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र

विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र इसरो का सबसे बड़ा एवं सर्वाधिक महत्वपूर्ण केंद्र है। यह तिरुवनंतपुरम में स्थित है। यहाँ पर रॉकेट, प्रक्षेपण यान एवं कृत्रिम उपग्रहों का निर्माण एवं उनसे सम्बंधित तकनीकी का विकास किया जाता है। केंद्र की शुरुआत थम्बा ...

                                               

सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र

सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन का प्रक्षेपण केंद्र है। यह आंध्र प्रदेश के श्रीहरीकोटा में स्थित है, इसे श्रीहरीकोटा रेंज या श्रीहरीकोटा लाँचिंग रेंज के नाम से भी जाना जाता है। 2002 में इसरो के पूर्व प्रबंधक और वैज्ञानिक ...

                                               

सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र तृतीय लांच पैड

तृतीय लांच पैड सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र, श्रीहरिकोटा का निर्माणाधीन रॉकेट प्रक्षेपण स्थल है। जब लांच पैड पूरी तरह से निर्माण हो जायेगा। तब यह सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र में तृतीय लांच पैड होगा।

                                               

सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र द्वितीय लांच पैड

द्वितीय लांच पैड सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र, श्रीहरिकोटा में एक रॉकेट प्रक्षेपण स्थल है। यह सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्पर स्थित दो लांच पैड में से एक है। द्वितीय लॉन्च पैड या एसएलपी को मार्च 1999 से दिसंबर 2003 की अवधि के दौरान रांची में स्थित भारतीय स ...

                                               

सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र प्रथम लांच पैड

प्रथम लांच पैड सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र, श्रीहरिकोटा में एक रॉकेट प्रक्षेपण स्थल है। जो 1993 में शुरू किया गया था। यह वर्तमान में इसरो के दो प्रक्षेपण वाहन ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान और भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण यान को लांच करने में प्रयुक्त होत ...

                                               

हेमसैट

हेमसैट को हेमसैट इंडिया के रूप में भी जाना जाता है। हेमसैट भारतीय और अंतरराष्ट्रीय रेडियो ऑपरेटरों के लिए रेडियो उपग्रह संचार सेवाएं प्रदान करने वाला 42.5 किलोग्राम वजन का एक माइक्रोसेटेलाइट है। इसका प्रक्षेपण भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वार ...

                                               

मंगल की टेराफॉर्मिंग

मंगल की टेराफॉर्मिंग एक परिकल्पित प्रक्रिया है जिसके द्वारा मंगल ग्रह की जलवायु और सतह को जानबूझ परिवर्तित करके गृह के बड़े हिस्सों को मनुष्य के रहने के लायक बनाया जाएगा।

                                               

अंतरिक्ष संस्थान

अंतरिक्ष संस्थान वह संस्थान होता है, जहाँ पर अंतरिक्ष सम्बन्धी काम होता है और वह भारत में, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन है। इसी तरह संयुक्त राज्य अमेरिका

                                               

प्रोटॉन (रॉकेट परिवार)

प्रोटॉन रॉकेट, एक प्रमोचन यान है जो की रूस की सरकारी एवं व्यावसायिक दोनों प्रकार की अंतरिक्ष उड़ानों में प्रयोग किया जता है। इसका प्रथम प्रक्षेपण सन १९६५ में हुआ था व तब से आज तक इसका प्रयोग जारी है। पृथ्वी की निचली कक्षा में यह यान २२ टन एवं भू ...

                                               

सोयुज टीएमए १२

सोयुज टीएमए १२ एक वर्तमान सोयुज अंतरिक्ष मिशन है जो अंतराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्रकी उडान पर है जिसे सोयुज एफजी रॉकेट द्वारा ११:१६ मिनट यूटीसी पर ८ अप्रैल २००८ को छोडा गया। इसके अंतरिक्ष स्टेशन पर पहुंचने का नियत समय १० अप्रैल २००८ को तय है।.

                                               

अवतार (अंतरिक्षयान)

अवतार भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की मानवरहित एकचरणीय पुनर्प्रयोज्य अंतरिक्षयान के कान्सेप्ट अध्ययन का नाम है। इसका उड़ान भरना और उतरना दोनों ही क्षैतिज दिशा में होगा। इसका उद्देश्य कम लागत के सैन्य एवं वाणिज्यिक उपग्रह विमोचन की क्षमता प्राप् ...

                                               

आई-1के

आई -1के, इनसैट-1000 के रूप में भी जाना जाता है। यह एक उपग्रह बस है जो भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित और इसकी मार्केटिंग एंट्रिक्स निगम द्वारा की जाती है। आई-1के बस हल्के भूस्थिर उपग्रहों और के साथ संगत होना करने के लिए डिज़ाइन किया ...

                                               

आई-2के

आई-2के भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित और एंट्रिक्स कॉर्पोरेशन द्वारा बेचा जाने वाला एक उपग्रह बस है। यह २००० किलो के उपग्रहों के लिये एक मानक उपग्रह बस है। आई-२के में आई इनसैट के लिये है जो कि इसरो द्वारा विकसित संचार उपग्रहओं की एक ...

                                               

आई-3के

आई-३के भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित एक उपग्रह बस है। ३००० किलो श्रेणी के उपग्रहों के लिये उपयोग में आने वाली यह मानक बस है। इसके नाम में आई इनसैट को प्रतिबिंबित कर्ता है जो कि इसरो द्वारा विकसित व प्रक्षेपित संचार उपग्रहों का एक स ...

                                               

आई-4के

आई-4के भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित हो रहा एक उपग्रह बस है।4.000–5000 किलो श्रेणी के उपग्रहों के लिये उपयोग में आने वाली यह मानक बस होगी। इसके नाम में आई इनसैट को प्रतिबिंबित करता है जो कि इसरो द्वारा विकसित व प्रक्षेपित संचार उपग ...

                                               

इनसैट -3डी

इनसैट -3डी एक मौसम संबंधी, डेटा रिले उपग्रह है जो सहायता प्राप्त खोज और बचाव उपग्रह के रूप ने भी कार्य कर सकता है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित इस उपग्रह को फ्रेंच गयाना से एक एरियन -5 ईसीए प्रक्षेपण यान द्वारा 26 जुलाई 2013 को सफ ...

                                               

इनसैट-1ए

इनसैट-1ए एक भारतीय संचार उपग्रह था जो भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह प्रणाली का हिस्सा था। इस उपग्रह को 1982 में लाँच किया गया था। इसे 74° पूर्व के एक रेखांश पर भूभौतिकीय कक्षा में संचालित किया गया था। कई विफलताओं की एक श्रृंखला के बाद, इस उपग्रह को सित ...

                                               

उपग्रह प्रक्षेपण यान

उपग्रह प्रक्षेपण यान या एसएलवी परियोजना भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा 1970 के दशक में शुरू हुई परियोजना है जो उपग्रहों को प्रक्षेपित करने के लिए आवश्यक प्रौद्योगिकी विकसित करने के लिए की गयी थी। उपग्रह प्रक्षेपण यान परियोजना एपीजे अब्दुल ...

                                               

ऐस्ट्रोसैट

ऐस्ट्रोसैट खगोलीय शोध को समर्पित भारत की पहली वेधशाला है। इसका प्रक्षेपण 28 सितम्बर 2015 को सोमवार सुबह दस बजे आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से पीएसएलवी द्वारा किया गया। यह सुदूरवर्ती खगोलीय पिंडों के अध्ययन को समर्पित भारत का पहला उपग्रह है। यह एक ...

                                               

कल्पना-1

कल्पना-1 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा लांच पहला मौसम समर्पित उपग्रह है। इसको ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान द्वारा 12 सितंबर 2002, 10:24:00 यु.टी.सी पर सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लांच किया गया था। इसे मैटसैट के नाम से भी जाना जाता है।

                                               

पीएसएलवी-सी37

पीएसएलवी-सी37, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा संचालित पीएसएलवी श्रृंखला का एक उपग्रह प्रमोचन वाहन है जिसने 15 फरवरी 2017, बुधवार को कुल 104 उपग्रहों को पृथ्वी की कक्षा में स्थापित करके एक नया विश्वकीर्तिमान स्थापित किया। भारत के 714 किलोग् ...

                                               

प्रथम (उपग्रह)

प्रथम एक भारतीय आयनमंडलीय शोध उपग्रह है जो स्टूडेंट सैटेलाइट इनिशिएटिव के भाग के तहत भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मुम्बई द्वारा संचालित की जाएगी। इसका प्राथमिक लक्ष्य पृथ्वी के आयनमंडलीय में इलेक्ट्रॉनों की गिनती करना है। प्रथम अंतरिक्ष यान 30 सें ...

                                               

भारतीय लघु उपग्रह बस

भारतीय लघु उपग्रह इसरो द्वारा विकसित छोटे उपग्रह बसों की एक श्रंखला है। यह बस छोटे और मुख्यत: प्रायोगिक उपग्रहों के लिये आधार प्रदान करने के लिये बनागई थी।

                                               

शुक्रयान-1

शुक्रयान-1 शुक्र के वातावरण का अध्ययन करने के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा शुक्र के लिए प्रस्तावित एक ऑर्बिटर है। यदि वित्त पोषित होता है, तो इसे 2017 और 2020 के बीच लॉन्च किया जाएगा। शुक्र के एक्सप्लोरेशन के लिए मिशन का उल्लेख 2017- ...

                                               

स्पेस कॅप्सुल रिकव्हरी प्रयोग

स्पेस कैप्सूल रिकवरी एक्सपेरिमेंट या आमतौपर स्पेस कॅप्सुल रिकव्हरी-1 एक भारतीय प्रयोगात्मक अंतरिक्ष यान जो भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा श्रीहरिकोटा से 10 जनवरी, 2007 को 03:53 जी.एम.टी. पर शुरू किया गया था। इसका प्रक्षेपण तीन अन्य उपग्रहो ...

                                               

जीसैट-14

जीसैट-14 एक भारतीय संचार उपग्रह है जिसे जनवरी 2014 में सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित किया गया। माना जा रही है कि यह उपग्रह वर्ष 2004 में प्रक्षेपित जीसैट-3 का स्थान लेगा। जीसैट -14 को जीएसएलवी डी 5 द्वारा प्रमोचित किया गया जिसके तीसरे चरण में भार ...

                                               

आईआरएनएसएस-1डी

आईआरएनएसएस-१डी भारत का एक नौवहन उपग्रह है। यह उपग्रह २८ मार्च २०१५ को सफलता पूर्वक प्रक्षेपित किया गया था।यह भारतीय क्षेत्रीय नौवहन उपग्रह प्रणाली शृंखला के अन्तर्गत छोड़े जाने वाले ७ उपग्रहों में से चौथा है। इसके पहले आईआरएनएसएस-1ए, आईआरएनएसएस-1 ...

                                               

इनसैट-4ई

इनसैट-4ई जिसे जीसैट-6 के नाम से भी जाना जाता है एक मल्टीमीडिया संचार उपग्रह है। यह भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह का सदस्य उपग्रह है। यह उपग्रह अन्य सामाजिक और सामरिक अनुप्रयोगों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। उपग्रह का जीवन काल 9 साल होगा। इसका प्रक् ...

                                               

2017 में अंतरिक्ष उड़ान

2017 में उल्लेखनीय अंतरिक्ष गतिविधियों के रूप में नासा के वाणिज्यिक क्रू विकास कार्यक्रम द्वारा अनिवार्य, संयुक्त राज्य अमेरिका से मानव अंतरिक्ष उड़ान के लिए क्षमताओं को बहाल करने के लिए एक लक्ष्य के साथ दोनों बोइंग सीएसटी-100 स्टारलाइनर और स्पेस ...

                                               

आईआरएनएसएस-1एच

आईआरएनएसएस-1एच,1ए, 1बी, 1सी, 1डी,1ई, 1एफ़ व 1जी के बाद आठवां भारतीय नौवहन उपग्रह है। यह उपग्रह आईआरएनएसएस सीरीज़ का उपग्रह है, जो भारतीय क्षेत्र में नेविगेशन सेवायें प्रदान करने के लिए छोड़ा गया था। वजन के कारण सैटलाइट की रफ्तार में एक किलोमीटर/ ...

                                               

संचार-केंद्रित इंटेलिजेंस सैटेलाइट

संचार केंद्रित इंटेलिजेंस उपग्रह एक भारतीय उन्नत टोह उपग्रह है, जिसे डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन ने विकसित किया है। यह भारत का पहला आधिकारिक तौपर समर्पित जासूसी सैटेलाइट है। यह उपग्रह भारतीय खुफिया एजेंसियों को पड़ोसी देशों में आतंकवा ...

                                               

संचार उपग्रह

दूरसंचार के प्रयोजनों के लिए संचार उपग्रह अंतरिक्ष में तैनात एक कृत्रिम उपग्रह है। आधुनिक संचार उपग्रह भू-स्थिर कक्ष, मोलनीय कक्ष, अन्य दीर्घवृत्ताकार कक्ष और पृथ्वी के निचले कक्ष सहित विभिन्न प्रकार के परिक्रमा-पथों का उपयोग करते हैं। निश्चित बि ...

                                               

जीसैट-1

जीसैट-१ जीएसएलवी रॉकेट की पहली उडान द्वारा प्रक्षेपित एक प्रयोगधर्मी संचार उपग्रह था। यह अंतरिक्ष यान एस बैंड आवृति और सीबैंड के तीन प्रेषानुकरों द्वारा छोडे जा रहे स्पदंन स्वर परिवर्तन नापने वाले उपकरणों से सुसज्जित था। इस उपग्रह पर सुधारित प्रत ...

                                               

जीसैट-11

जीसैट-11 एक भारतीय संचार उपग्रह है। जिसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित तथा भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह द्वारा संचालित किया जायेगा। यह उपग्रह देश में उन्नत दूरसंचाऔर डीटीएच सेवाएं प्रदान करेगा। जीसैट-11 पूरे देश के लिए प्रति सेकंड 16 गी ...

                                               

जीसैट-12

जीसैट-12 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित किया गया उपग्रह है। इसका प्रक्षेपण 25 दिसंबर 2013, 01:49:32 यु.टी.सी को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से हुआ था।

                                               

जीसैट-15

जीसैट-15 एक भारतीय संचार उपग्रह है। जिसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित किया गया है। यह अपने साथ 24 केयू-बैंड ले गया है। जीसैट-15 उपग्रह जीसैट-10 के सामान है। इसका प्रक्षेपण 10 नवंबर 2015, 21:34:07 यु.टी.सी को गयाना अंतरिक्ष केंद्र, ...

                                               

जीसैट-16

जीसैट-16 एक भारतीय संचार उपग्रह है। जिसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित किया गया है। यह अपने साथ 12 केयू-बैंड, 24 सी-बैंड और 12 विस्तृत सी-बैंड ले गया है। इसका प्रक्षेपण 6 दिसंबर 2014, 20:40 यु.टी.सी को गयाना अंतरिक्ष केंद्र, फ्रांस ...

                                               

जीसैट-17

जीसैट-17 एक भारतीय संचार उपग्रह है। जिसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित तथा भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह द्वारा संचालित किया जायेगा। यह अपने साथ 24 सी बैंड, 2 निम्न सी बैंड, 12 ऊपरी सी बैंड, 2 सीxएस बैंड, 2 एसxसी बैंड, 1 डीआरटी और खोज एव ...

                                               

जीसैट-18

जीसैट-18 एक भारतीय संचार उपग्रह है। जिसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित तथा भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह द्वारा संचालित किया जायेगा। यह अपने साथ 24 सी बैंड, 12 विस्तृत सी बैंड, 12 के यू बैंड, 2 के यू प्रकाश स्तम्भ ले जायेगा। इसका प्रक्षे ...

                                               

जीसैट-2

जीसैट-2 was an experimental communication satellite built by the भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित एक प्रयोगधर्मी संचार उपग्रह था जिसे पहले जीएसएलवी प्रमोचन यान से १८ मई २००३ को प्रक्षेपित किया गया था। उपग्रह को 48° पूर्व देशांतर पर भू ...

                                               

जीसैट-20

जीसैट-20 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन उपग्रह केंद्और तरल प्रणोदन प्रणाली केंद्र द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया जा रहा एक संचार उपग्रह है जिसे इसरो द्वारा लॉन्च किया जाएगा। जीसैट-20 भारत के संचार उपग्रह जीसैट श्रृंखला का भाग होगा। उपग्रह का उ ...

                                               

जीसैट-29

जीसैट-29 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा विकसित किया जा रहा एक संचार उपग्रह है। दो क्यू और का परिचालन पेलोड डिजिटल भारत कार्यक्रम के तहत जम्मू-कश्मीऔर पूर्वोत्तर क्षेत्रों को संचार सेवाएं प्रदान करेंगे। जीएसएटी -29 भारतीय लॉन्च वाहन द्वारा ...

                                               

जीसैट-4

जीसैट-4 को हेल्थसैट के रूप में भी जाना जाता है। यह एक प्रयोगात्मक संचाऔर नेविगेशन उपग्रह था। इसे भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण यान मार्क 2 की प्रथम प्रयोगिक उड़ान में भेजा गया था। लेकिन भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण यान मार्क 2 के तीसरे चरण की विफलता के का ...

                                               

जीसैट-5पी

जीसैट-5पी या जीसैट-5प्राइम एक प्रयोगात्मक संचार उपग्रह था। इसे भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण यान मार्क 1 एफ06 की उड़ान में भेजा गया था। लेकिन भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण यान मार्क 1 के बूस्टर की विफलता के कारण यह कक्षा तक नहीं पंहुचा। उड़ान भरने के कुछ स ...