ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 265




                                               

टंगस्टन

टंगस्टन Tungsten अथवा वोल्फ्राम Wolfram आवर्त सारणी के छठे अंतर्वर्ती समूह transition group का तत्व है। प्राकृतिक अवस्था में इसके पाँच स्थायी समस्थानिक पाए जाते हैं, जिनकी द्रव्यमान संख्याएँ 180, 182, 183, 184 तथा 186 हैं। इनके अतिरिक्त 181, 185 ...

                                               

टैंटेलम

टैंटेलम Tantalum आवर्त सारणी के पंचम संक्रमण समूह का तत्व है। इसका केवल एक स्थिर समस्थानिक, द्रवमानसंख्या 181, प्राप्त है। इसके चार कृत्रिम रेडियधर्मी समस्थानिक भी ज्ञात हैं, जिनकी द्रव्यमान संख्या 176, 177, 180 और 182 है। इस तत्व की खोज 1872 ई. ...

                                               

नायोबियम

नायोबियम Niobium एक रासायनिक तत्व है। इसका प्रतीक है - Nb. यह एक दुर्लभ, मुलायम, भूरे रंग का तन्य संक्रमण धातु है। नायोबियम, पाइरोक्लोर pyrochlore एवं कोलम्बाइट columbite नामक खनिजों में पाया जाता है।

                                               

रीनियम

रेनियम Rhenium ; संकेत: Re एक रासायनिक तत्व है। इसका परमाणुभार १८६.३१ तथा परमाणु संख्या ७५ है। इसका आविष्कार १९२५ ई. में इडा तथा वाल्टर नौडाक Ida and Walter Noddock द्वारा हुआ था। इसके स्थायी समस्थानिक की द्रव्यमान संख्या १८५ है और अन्य रेडियोऐक् ...

                                               

आइंस्टीनियम

आइंस्टीनियम तत्व अमरीका के ताप न्यूक्लीय विस्फोट के रेडियमधर्मी मलबे में पाया गया था। इसका नाम विश्वविख्यात वैज्ञानिक आइंस्टाइन के नाम पर रखा गया है। आंइस्टीनियम की खोज १९५२ ई. में ही हो गई थी लेकिन काफी समय तक यह प्रचुर मात्रा में तैयार नहीं किय ...

                                               

कोपरनिसियम

कोपरनिसियम Copernicium, जिसका रासायनिक प्रतीक Cn है, एक रासायनिक तत्व है। इसका परमाणु क्रमांक एटोमिक नम्बर ११२ है। कोपरनिसियम प्रकृति में नहीं पाया जाता और यह केवल प्रयोगशाला में कृत्रिम रूप से निर्मित किया गया है। इसका नाभिक न्यूक्लीयस बहुत अस्थ ...

                                               

डार्मस्टाडियम

डार्मस्टाडियम अंग्रेज़ी: Darmstadtium एक रासायनिक तत्व है। इसे Ds से प्रदर्शित किया जाता है। इसका परमाणु क्रमांक 110 है। यह एक अति रेडियोधर्मी पदार्थ है। इसका अर्धायु काल लगभग 10 सेकंड का होता है। इस पदार्थ का खोज वर्ष 1994 में डर्मस्टाद्ट, जर्मन ...

                                               

बोरियम

बोरियम एक रासायनिक तत्व है, जिसे Bh के चिह्न से दिखाया जाता है और इसका परमाणु क्रमांक 107 है। इस तत्व को प्रयोगशाला में बनाया जा सकता है, लेकिन प्रकृति में कहीं नहीं मिलता है। इसका सबसे स्थायी समस्थानिक 270 Bh है। इसकी अर्ध-आयु लगभग 61 सेकंड की ह ...

                                               

रेन्टजेनियम

रेन्टजेनियम Roentgenium, जिसका रासायनिक प्रतीक Rg है, एक रासायनिक तत्व है। इसका परमाणु क्रमांक एटोमिक नम्बर १११ है। कोपरनिसियम प्रकृति में नहीं पाया जाता और यह केवल प्रयोगशाला में कृत्रिम रूप से निर्मित किया गया है। इसका नाभिक न्यूक्लीयस बहुत अस् ...

                                               

उत्परिवर्तन

जीन डी एन ए के न्यूक्लियोटाइडओं का ऐसा अनुक्रम है, जिसमें सन्निहित कूटबद्ध सूचनाओं से अंततः प्रोटीन के संश्लेषण का कार्य संपन्न होता है। यह अनुवांशिकता के बुनियादी और कार्यक्षम घटक होते हैं। यह यूनानी भाषा के शब्द जीनस से बना है। क्रोमोसोम पर स्थ ...

                                               

प्राकृतिक गैस

प्राकृतिक गैस कई गैसों का मिश्रण है जिसमें मुख्यतः मिथेन होती है तथा ०-२०% तक अन्य उच्च हाइड्रोकार्बन गैसें होती हैं। प्राकृतिक गैस ईंधन का प्रमुख स्रोत है। यह अन्य जीवाश्म ईंधनों के साथ पायी जाती है। यह करोडों वर्ष पुर्व धरती के अन्दर जमें हुये ...

                                               

हिलियम-३

हीलियम -3 हीलियम का एक हल्का, गैर-रेडियोधर्मी समस्थानिक है जिसमें दो प्रोटॉन और एक न्यूट्रॉन हैं। प्रोटियम के अलावा, हीलियम -3 न्यूट्रॉन की तुलना में अधिक प्रोटॉन वाले किसी भी तत्व का एकमात्र स्थिर आइसोटोप है। हीलियम -3 की खोज 1939 में हुई थी। हि ...

                                               

पेट्रोलियम उत्पाद

पेट्रोलियम उत्पाद, तेल रिफाइनरियों में संसाधित कच्चे तेल से प्राप्त होने वाली उपयोगी सामग्रियों को कहते हैं। कच्चे तेल की संरचना और मांग के अनुसार रिफाइनरियां पेट्रोलियम उत्पादों को विभिन्न मात्राओं में उत्पादित कर सकती हैं। तेल उत्पादों का सबसे ...

                                               

पेट्रोल

गैसोलीन या पेट्रोल एक पेट्रोलियम से प्राप्त/व्युत्पन्न तरल-मिश्रण है। इसे प्राथमिकता से अन्तर्दहन इंजन में ईंधन के तौपर प्रयोग किया जाता है। इसे एसीटोन की तरह एक शक्तिशाली घुलनशील द्रव्य की तरह भी प्रयोग किया जाता है। इसमें कई एलिफैटिक हाइड्रोकार ...

                                               

पैराफिन

रसायन विज्ञान में, पैराफिन शब्द का प्रयोग एल्केन के पर्याय के रूप में कर सकते हैं। वस्तुत: ये CnH2n+2 सामान्य सूत्र वाले हाइड्रोकार्बनों का मिश्रण है। पैराफिन मोम से मतलब एल्केनों के ऐसे मिश्रण से है जिसमें 20 ≤ n ≤ 40 होता है तथा ये कमरे के ताप ...

                                               

स्नेहक

लूब्रिकेंट एक ऐसा पदार्थ है जो दो गतिशील सतहों के बीच लगाया जाता है ताकि उनके बीच घर्षण कम हो, कार्यकुशलता में सुधार हो और जल्दी घिस ना जाए. इसमें घोलने या बाह्य कणों के परिवहन और गर्मी के वितरण का कार्य हो सकता है। लूब्रिकेंट के लिए एकल सबसे बड़ ...

                                               

कोसी बाँध

कोसी नदी पर सन १९५८ एवं १९६२ के बीच एक बाँध बनाया गया। यह बाँध भारत-नेपाल सीमा के पास नेपाल में स्थित है। इसमें पानी के बहाव के नियंत्रण के लिये ५६ द्वार बने हैं जिन्हें नियंत्रित करने का कार्य भारत के अधिकारी करते हैं। इस बाँध के थोड़ा आगे भारती ...

                                               

इंदिरा सागर बाँध

इंदिरा सागर बाँध मध्य प्रदेश में नर्मदा नदी पर खण्डवा जिले में नर्मदानगर स्थान पर निर्मित बाँध है। यह एक बहूद्देशीय है। इस बाँध की नींव २३ अक्टूबर १९८४ में भारत की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने रखी थी। मुख्य बाँध का निर्माण १९९२ में आरम्भ ...

                                               

इदुक्की बांध

इदुक्की बांध एक द्विवलय चापाकार बांध है जो पेरियार नदी पर दो ग्रेनाइट पहाड़ियों, जिनका स्थानीय नाम कुरवान तथा कुरती, के मध्य भारतीय राज्य केरल में स्थित है। यह 167.68 मीटर की ऊँचाई के साथ एशिया के सबसे ऊँचे चाप बांधों में से एक है। इसे केरल राज्य ...

                                               

कृष्णाराजसागर बांध

श्री कृष्णा राजा सागर बांध भारत के कर्नाटक राज्य में स्थित है। इसकी योजना का कार्य व निर्माण एम. विश्‍वशरैया ने 1932 में शुरू किया था। इस बांध से कावेरी, हेमावती और लक्ष्मण तीर्थ नदियां आपस में मिलती है। इस बांध की लंबाई 2621 मीटर और ऊंचाई 39 मीट ...

                                               

खुडिया बांध

खुड़िया बांध छत्तीसगढ़ में मुंगेली जिले के लोरमी विकासखण्ड में स्थित है और मुंगेली से तकरीबन 45 किलोमीटर दूर है। इसका आधिकारिक नाम राजीव गांधी जलाशय है। यह एक रमणीय स्थल है जो चारो ओर से वनाच्छाादित है तथा इसके उत्तर पश्चिम दिशा में पर्वत श्रृखला ...

                                               

जवाई बाँध

जवाई बाँध राजस्थान के पाली ज़िले में स्थित एक बाँध है। इसका निर्माण १९४६ ईस्वी में जोधपुर रियासत के महाराजा उम्मेद सिंह ने करवाया था। रियासत काल में इस बाँध का निर्माण स्टेट के इंजीनियर एडगर व फर्गुसन की देखरेख में हुआ था। राजस्थान के गठन के पश्च ...

                                               

पंडोह झील

पंडोह बांध हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में व्यास नदी पर बना एक तटबन्ध बाँध है। व्यास परियोजना के अन्तर्गत यह बाँध १९७७ में बनकर तैयार हुआ। इसका मुख्य उद्देश्य जलविद्युत शक्ति जनन है। ये बाँध 76 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। कुल्लू और मनाली इन दोनों स ...

                                               

बगलिहार बाँध

बगलिहार बाँध भारत के जम्मू क्षेत्र के डोडा ज़िले में बनाया जा रहा है। यह जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर है और जम्मू से लगभग 150 किलोमीटर दूर बटौत शहर के पास है। नींव से इसकी ऊँचाई 144 मीटर और लंबाई 317 मीटर होगी। बगलिहार बाँध की जल धारण क्षम ...

                                               

मंगला बाँध

मंगला बाँध पाक-अधिकृत कश्मीर के मीरपुर ज़िले में झेलम नदी पर स्थित एक बाँध है। यह विश्व का सातवाँ सबसे बड़ा बाँध माना जाता है और इसका नाम निकटवर्ती मंगला गाँव पर पड़ा। इसका निर्माण सन् १९६१ में आरम्भ और १९६७ में पूर्ण हुआ। इसे एक ब्रिटिश वास्तु क ...

                                               

मुल्लापेरियार बांध

मुल्लापेरियार बांध या मुल्लाईपेरियार बांध भारतीय राज्य केरल स्थित एक राजगीरी, गुरुत्वीय बांध है। यह समुद्र तल से 881 मी॰ की ऊँचाई पर पश्चिमी घाट की इलायची पहाड़ियाँ के मध्य थेक्कादी, इदुक्की जिला में स्थित है। इसका निर्माण 1887 से 1895 के मध्य जॉ ...

                                               

बाह्यमार्ग

बाह्यमार्ग या बाइपास ऐसी सड़क या राजमार्ग होता है जो किसी शहर, गाँव या अन्य क्षेत्र के अन्दर से जाने कि बजाय मुड़कर उसके बाहरी क्षेत्र से गुज़र जाय। अक्सर शहरों में वाहनों का ट्रैफ़िक भारी होता है और जन व स्थापत्य के कारण परिवहन की गति धीमी होती ...

                                               

शाखा मार्ग

शाखा मार्ग किसी सड़क या अन्य मार्ग से शाखा के रूप मे निकलने वाली एक अन्य सड़क होती है जो मूल मार्ग से छोटी या किसी अन्य कारण से कम महत्वपूर्ण हो। बाइपास को आमतौपर शाखा मार्ग नहीं समझा जाता क्योंकि वह मूल सड़क से निकलकर किसी शहर से बाहर रहकर फिर उ ...

                                               

दिल्ली-मुल्तान राजमार्ग

दिल्ली-मुल्तान राजमार्ग भारत की राजधानी दिल्ली को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्थित मुल्तान शहर से जोड़ने वाला एक राजमार्ग है। इसका निर्माण दिल्ली सल्तनत के सम्राट शेर शाह सूरी ने मुल्तान, दिल्ली और उनके बीच के क्षेत्रों में व्यापर और यातायात ब ...

                                               

राष्ट्रीय राजमार्ग (भारत)

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग, भारत की केन्द्रीय सरकार द्वारा संस्थापित और सम्भाले जानी वाली लंबी दूरी की सड़के है। मुख्यतः यह सड़के 2 पंक्तियो की है, प्रत्येक दिशा में जाने के लिए एक पंक्ति। भारत के राजमार्गो की कुल दूरी लगभग 4754000 किमी है, जिसमे ...

                                               

रेलवे प्लेटफार्म

रेलवे प्लेटफार्म रेल की पटरियों की दिशा में स्थित भाग होता है, यह रेलवे स्टेशन, मेट्रो रेल स्टेशन अथवा ट्राम स्टेशन पर स्थित उस जगह को कहते हैं जहाँ यात्री रेलगाडी में चढ़ते हैं, उतरते हैं अथवा बदलते हैं। सभी रेलवे स्टेशन पर किसी न किसी तरह का प् ...

                                               

आनंद विहार टर्मिनल रेलवे स्टेशन

आनंद विहार रेलवे स्टेशन, स्‍टेशन कोड ANVT, जो की बड़ा रेलवे स्टेशन है, भारत की राजधानी दिल्ली का जिला पूर्वी दिल्ली में स्थित है। यह दिल्ली प्रभाग के प्रशासनिक नियंत्रण में आता है। और इसके पास में दिल्ली मेट्रो की ब्लू लाइन पर स्थित आनंद विहार मे ...

                                               

कमतौल

जाले प्रखंड में कमतौल रेलवे स्टेशन है यहा से ३ किलोमीटर दक्षिण अहिल्यास्थान स्थित है। अयोध्या जाने के क्रम में भगवान श्रीराम ने पत्थर बनी शापग्रस्त अहिल्या का उद्धार इस स्थान पर किया था। यहाँ प्रतिवर्ष रामनवमी एवं विवाह पंचमी को मेला लगता है। कमत ...

                                               

काँठ

काँठ अंग्रेजी: Kanth, Moradabad भारत में उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले का एक बहुत पुराना कस्बा है। यह विकसित अच्छे खासे नगर में तब्दील हो चुका है। प्रशासन की दृष्टि से इसकी अपनी नगरपालिका भी है। भौगोलिक दृष्टि से काँठ 29.07°N 78.63°E  / 29.07; ...

                                               

केराकत रेलवे स्टेशन

केराकत रेलवे स्टेशन एक पैसेन्जर रेलवे स्टेशन है जो जौनपुर जंक्शन से २८ किमी की दुरी पर है। यह रेलवे स्टेशन केराकत तथा पास पडोस के सभी गॉवो को उच्चतर रेलवे परिवहन देता है।ब्रिटिश शासन काल मे इसका नाम किराकत हुआ करता था।

                                               

चंदोली

चंदौली वाराणसी से अलग होकर बनाया गया ज़िला है। चंदौली को धान का कटोर कहा जाता है। चंदौली में पूरे भारत का सबसे रेलवे यार्ड मुग़लसराय में है। साथ ही मुग़लसराय यहां का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन भी है।

                                               

जोधपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन

जोधपुर रेलवे स्टेशन जोधपुर,राजस्थान,भारत में स्थित एक प्रमुख रेलवे स्टेशन है। रेलवे स्टेशन भारतीय रेल के उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन है।

                                               

जौनपुर जंक्शन

जौनपुर जंकशन उत्तर रेलवे के लखनऊ मण्डल का प्रमुख आय स्रोत वाला स्टेशन है। यह जौनपुर शहर के उत्तर पुर्व मे स्थित है। यह स्टेशन वाराणसी-लखनऊ वाया फैजाबाद तथा औडिंहार-जौनपुर वाया केराकत रेलखण्ड पर पडता है। यह स्टेशन A कैटेगरी स्टेशन मे सम्मिलित है। ...

                                               

टाटानगर जंक्शन रेलवे स्टेशन

टाटानगर जमशेदपुर शहर के रेलवे-स्टेशन का नाम है जो झारखंड प्रांत में स्थित है। पहले यह बिहार का हिस्सा हुआ करता था। टाटानगर दक्षिणपूर्व रेलवे का एक प्रमुख एवं व्यस्त स्टेशन है जो हावडा मुंबई मुख्य लाईन पर स्थित है।

                                               

तिरुपति रेलवे स्टेशन

तिरुपति रेलवे स्टेशन भारत के आंध्र प्रदेश राज्य में स्थित हैं यह तिरुपति आने वाले यात्री एवं एवं बड़ी संख्या में तीर्थयात्री जो चितूर जिले के तिरुमला वेंकटेश्वर मंदिर में आते हैं उनके उतरने का मुख्य स्थल हैं। तिरुमला मंदिर हिन्दुओ के मान्यता प्रा ...

                                               

फालना रेलवे स्टेशन

फालना रेलवे स्टेशन भारतीय राज्य राजस्थान के पाली जिले का मुख्य रेलवे स्टेशन है। इस स्टेशन पर तीन प्लेटफाॅर्म हैं। या रेलवे स्टेशन फालना के आसपास के विभिन्न क्षेत्रों को विभिन्न राज्यों के द्वारा जोड़ा जाता है इनमें मुख्य रूप से तखतगढ़ सुमेरपुर सा ...

                                               

बुढ़वल जंक्शन

बुढ़वल 27°05′44″N 81°29′05″E. की भौगोलिक स्थिति पर स्थित है। यह लोधेश्वर महादेव मंदिर से 6 किमी दक्षिण पूर्व, पारिजात वृक्ष किन्तूर से 9 किमी पश्चिम, बाराबंकी से 27 किमी उत्तर, घाघरा नदी से 9 किमी दक्षिण और रामनगर की दूरियों पर राष्ट्रीय राजमार्ग ...

                                               

शिकोहाबाद जंक्शन रेलवे स्टेशन

शिकोहाबाद जंक्शन एक महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन है। शिकोहाबाद रेलवे स्टेशन से दिल्ली मुंबई आगरा लखनऊ कानपुर कोलकाता चंडीगढ़ जैसे बड़े शहरों के लिए भी ट्रेन आसानी से मिल जाती है। शिकोहाबाद में रोडवेज डिपो भी मौजूद है। रोडवेज के माध्यम से भी दिल्ली आगर ...

                                               

हबीबगंज रेलवे स्टेशन

हबीबगंज रेलवे स्टेशन भारतीय रेल का एक रेलवे स्टेशन है। यह भोपाल शहर में स्थित है। इसकी ऊंचाई 552 मी. है। हबीबगंज रेलवे स्टेशन भोपाल शहर का दूसरा रेलवे स्टेशन है।

                                               

हावड़ा जंक्शन रेलवे स्टेशन

हावड़ा जंक्शन रेलवे स्टेशन हावड़ा एवं कोलकाता शहर का रेलवे स्टेशन है। यह हुगली नदी के दाहिने किनारे पर स्थित है। इसके २३ प्लेटफार्म इसे भारत के सबसे बड़े रेलवे स्टेशनों में एक बनाते हैं। १८५३ में भारत में पहली रेल गाड़ी मुम्बई से एवं १८५४ दूसरी ह ...

                                               

द गान

द गान ऑस्ट्रेलिया में एडिलेड, ऐलिस स्प्रिंग्स और डार्विन के बीच चलने वाली एक यात्री रेल सेवा है। यह ५४ घंटों में २,९७९ किलोमीटर का रास्ता तय करती है। इसका नाम १९वीं शताब्दी के अंत में ऑस्ट्रेलिया लागए कुछ अफ़्गान ऊंट-सवारों पर रखा गया है जिनकी मद ...

                                               

अजंता एक्सप्रेस 17064

अजंता एक्सप्रेस 7063/7064, भारतीय रेल की एक एक्सप्रेस रेलगाड़ी हैं, जो सिकंदराबाद और मनमाड के बीच चलती हैं। मनमाड, महाराष्ट्र के नासिक जिले में पड़ता हैं

                                               

अनुसंधान अभिकल्प तथा मानक संगठन

अनुसंधान अभिकल्प तथा मानक संगठन भारतीय रेल का एकमात्र अनुसंधान एवं विकास संगठन है। यह रेलवे बोर्ड, एवं क्षेत्रीय रेलों तथा उत्पादन इकाइयों के तकनीकी सलाहकार के रूप में कार्य करता है। यह रेलों से सम्बन्धित नई एवं उन्नत डिजाइनों का विकास करता है। इ ...

                                               

अनुसन्धान अभिकल्प एवं मानक संगठन

अनुसन्धान अभिकल्प एवं मानक संगठन) भारत की एक अनुसंधान एवं विकास संस्था है जो रेल मंत्रालय के अन्तर्गत है। यह एक ISO 9001 संस्था है। यह संस्था रेलवे बोर्ड, क्षेत्रीय रेलवे तथा रेलवे के उत्पादन इकाइयों को रेलवे के उपकरणों के डिजाइन एवं मानकीकरण से ...

                                               

अमरकंटक थर्मल पावर स्टेशन

अमरकंटक थर्मल पावर प्लांट दक्षिण पूर्व रेलवे के बिलासपुर - कटनी अनुभाग के अम्लाई रेलवे स्टेशन पर स्थित है, जो भारत के मध्य प्रदेश के अनूपपुर जिले का हिस्सा है।