ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 307




                                               

के वी कामत

के वी कामत को सन २००८ में भारत सरकार द्वारा उद्योग एवं व्यापार के क्षेत्र में "पद्म भूषण से सम्मानित किया था। ये कर्नाटक से हैं। अब ये बिकस बैंक के महासचिव हैं

                                               

कौशिक बसु

कौशिक बसु एक भारतीय अर्थशास्त्री हैं और अमेरिका में रहते हैं। वे 2009-12 में UPA सरकार के दौरान भारत सरकार में प्रमुख अर्थशास्त्री के पद पर कार्यरत थे। फिर वे 2012 से 2016 तक के लिए विश्व बैंक के प्रमुख अर्थशास्त्री चुने गए। बसु को सन 2008 में भा ...

                                               

जी ज़ियानलिन

जी ज़ियानलिन को सन २००८ में भारत सरकार द्वारा साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में "पद्म भूषण से सम्मानित किया था। ये चीन से हैं। "श्रेणी:२००८ पद्म भूष3 371484724901 {{आधार}

                                               

डी आर मेहता

डी आर मेहता को सन २००८ में भारत सरकार द्वारा समाज सेवा के क्षेत्र में ^ "पद्म पुरस्कार" पीडीएफ। गृह मंत्रालय, भारत सरकार। 2015. मूल पीडीएफ से 15 नवंबर 2014 को संग्रहीत। 21 जुलाई, 2015 को पुनःप्राप्त। ^ "अन्य राज्य / राजस्थान समाचार: डी पुरस्काआर ...

                                               

पी सुशीला

पी सुशीला को सन २००८ में भारत सरकार द्वारा कला के क्षेत्र में "पद्म भूषण से सम्मानित किया था। ये तमिलनाडु से हैं। पी सुशीला को कई भाषाओं में सर्वाधिक गानों की रिकॉर्डिंग के लिए गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया है। पी सुशीला बहुभाषी प्रसिद ...

                                               

मेघनाद देसाई

मेघनाद देसाई को सन २००८ में भारत सरकार द्वारा सार्वजनिक उपक्रम के क्षेत्र में "पद्म भूषण से सम्मानित किया था। ये यूनाइटेड किंगडम से हैं। Rediscovery of India meghnad ji ki pustak hai jo inhone likhi hai

                                               

शिव नाडार

शिव नाडार भारत के प्रमुख उद्यमी एवं समाजसेवी हैं। वे एचसीएल टेक्नॉलोजीज के अध्यक्ष एवं प्रमुख रणनीति अधिकारी हैं। सन् २०१० में उनकी व्यक्तिगत सम्पत्ति ४.2 बिलियन अमेरिकी डालर के तुल्य है। उनको सन २००८ में भारत सरकार द्वारा उद्योग एवं व्यापार के क ...

                                               

श्रीनिवास एस आर वर्धन

श्रीनिवाएस आर वरदान एक भारतीय-अमेरिकी गणितज्ञ है जिनको २००७ में एबेल पुरस्कार से सम्मनित किया गया था। उन्हें सन २००८ में भारत सरकार द्वारा साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में पद्म भूषण से भी सम्मानित किया था।

                                               

श्रीलाल शुक्ला

श्रीलाल शुक्ला लब्धप्रतिष्ठ उपन्यासकार हैं, इनको २००८ में भारत सरकार ने साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया था। अपने व्यंग्य लेखन के लिए विशेष चर्चित श्रीलाल शुक्ला को साहित्य अकादेमी पुरस्कार, व्यास-सम्मान, मैथिलीशरण गुप ...

                                               

गुरदीप सिंह रणधावा

गुरदीप सिंह रणधावा को सन २००९ में भारत सरकार द्वारा विज्ञान एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। ये दिल्ली राज्य से हैं।

                                               

रामचंद्र गुहा

रामचंद्र गुहा एक भारतीय इतिहासकार है। वह हिन्दुस्तान अखबार द टेलीग्राफ, ख़लीज टाइम्स के लिए स्तंभकार है। वह कलकत्ता के भारतीय प्रबंधन संस्थान के साथी है।

                                               

शेखर गुप्ता

शेखर गुप्ता एक भारतीय पत्रकार हैं, जो वर्तमान में द प्रिन्ट के अध्यक्ष और संपादक-इन-चीफ हैं। वे पहले इंडिया टुडे समूह के उपाध्यक्ष थे। वह बिजनेस स्टैंडर्ड के लिए एक स्तंभकार भी है और हर शनिवार को दिखाई देने वाला साप्ताहिक कॉलम लिखते हैं। जून 2014 ...

                                               

प परमेश्वरण

प. परमेश्वरन्, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक एवं जन संघ के पूर्व उपाध्यक्ष थे। संघ परिवार के लोग उन्हें परमेश्वर जी के नाम से बुलाते थे। वे एक दिग्गज लेखक, कवि, शोधकर्ता और प्रसिद्ध संघ विचारक थे। उन्हें २० मार्च २०१८ में साहित्य में योगदान ...

                                               

कलीम आजिज़

कलीम आजिज़ उर्दू के शायर और शिक्षाविद थे। कलीम साहब का जन्म बिहार के पटना जिले में हुआ था। पटना कॉलेज से उन्होंने स्नातक तथा पटना विश्वविद्यालय से उर्दू साहित्य में स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त की। पटना विश्वविद्यालय से ही उन्होंने बिहार में उर्द ...

                                               

खुशदेव सिंह

डॉ॰ खुशदेव सिंह को 1957 में चिकित्सा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्मश्री से सम्मानित किया गया। वे पंजाब राज्य के पटियाला से हैं।

                                               

जितेन्द्र उधमपुरी

जितेन्द्र उधमपुरी डोगरी भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक कविता–संग्रह इक शहर यादें दा के लिये उन्हें सन् 1981 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। भारत सरकार ने उन्हें 2010 में देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म ...

                                               

जे.आर. गंगारमणी

जवाहरलाल आर गंगारामणी एक भारतीय परोपकारी, व्यवसायी और अल फ़ारा समूह के सहयोगी हैं जो यूएई, सऊदी अरब और ओमान में मौजूद है। भारत सरकार ने उन्हें सामाजिक कार्य के क्षेत्र में अपनी सेवाओं के लिए 2010 में देश के चौथे उच्चतम नागरिक पुरस्कार पद्म श्री स ...

                                               

डी. आर. कार्तिकेयन

देवारायपुरम रामसामी कार्तिकेयन तमिलनाडु के एक भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी है और केंद्रीय जांच ब्यूरो के पूर्व विशेष निदेशक और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के महानिदेशक थे।

                                               

दीपक पुरी

दीपक पुरी मोजर बेयर के संस्थापक, अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं। मोजर बेयर दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ऑप्टिकल स्टोरेज मीडिया निर्माता कंपनी हैं। पुरी ने शुरू में तेल कंपनी ईएसएसओ के साथ जूनियर कार्यकारी के रूप में काम किया था - 1962 में कोलकाता में, ...

                                               

दुला भाया काग

दुला भाया काग प्रसिद्ध कवि, समाज सुधारक और स्वतंत्रता सेनानी थे। उनका जन्म गुजरात के महुवा के निकटवर्ती गाँव मजदार में हुआ। वो चारण जाति के थे। उन्हें वर्ष १९६२ में भारत सरकार ने साहित्य और शिक्षा के क्षेत्र में पद्म श्री पुरस्कार से सम्मनित किया।

                                               

बसंती बिष्ट

बसंती बिष्ट भारत की एक लोकगायिका हैं जो उत्तराखण्ड राज्य के घर-घर में गाए जाने वाले मां भगवती नंदा के जागरों के गायन के लिये प्रसिद्ध हैं। भारत सरकार ने 26 जनवरी 2017 को उन्हें पद्मश्री से विभूषित किया है। गांव और पहाड़ में महिलाओं के मंच पर जागर ...

                                               

बाबा सेवा सिंह

बाबा सेवा सिंह एक भारतीय सामाजिक कार्यकर्ता और पर्यावरणविद् हैं जो कि खडूर साहिब में ऐतिहासिक गुरुद्वारों के पुनर्स्थापना और रखरखाव में शामिल हैं। बाबा सेवा सिंह 2004 में गुरु गोबिंद सिंह फाउंडेशन सेवा पुरस्कार प्राप्तकर्ता हैं। भारत सरकार ने उन् ...

                                               

मुजफ्फर हुसैन (पत्रकार)

मुजफ्फर हुसैन भारत के राष्ट्रवादी पत्रकार व चिन्तक थे। सन २००२ में भारत सरकार ने उन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया था। कई भाषाओं में प्रवीणता हासिल करने वाले हुसैन विभिन्न भाषाओं में कई पत्रिकाओं के लिए और कई स्थानीय दैनिक समाचार पत्रों के लिए भी ...

                                               

रजनी कुमार

रजनी कुमार एक ब्रिटिश जनित भारतीय शिक्षाविद् और संस्थापक है स्प्रिंगडलेस समूह का स्कूलस की। भारत सरकार ने २०११ में उन्हें पद्म श्री के चौथे उच्चतम नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया था। उनका असल नाम नैन्सी जॉइस मार्गरेट जोन्स है। रजनी ५ मार्च १९२३ ...

                                               

राजश्री पैथी

राजश्री पैथी कोयम्बटूर, तमिलनाडु की एक उद्यमी हैं। वह राजश्री ग्रुप ऑफ कंपनीज और भारत डिज़ाइन फोरम के संस्थापक अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं। राजश्री ग्रुप ने व्यापाऔर खाद्य, कृषि, ऊर्जा, यात्रा, स्वास्थ्य, आतिथ्य और कला सहित विभिन्न प्रकार के हित ...

                                               

लक्ष्मी मजुमदार

लक्ष्मी मजुमदार दिल्ली से नवम्बर १९६४ से अप्रैल १९८३ तक भारतीय स्काउटिंग संगठन भारत स्काउट और गाइड के राष्ट्रीय आयुक्त रहीं। उन्हें १९६५ में भारत सरकार ने पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया।

                                               

लीला सैमसन

कुमारी लीला सैमसन भारत की भरतनाट्यम की प्रसिद्ध नृतिका हैं। उन्हें सन् २००० में पद्मश्री प्रदान किया गया था। अभी हाल में वे केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड की अध्यक्षा नियुक्त की गयीं हैं। भरतनाट्यम में पारंगत लीला सैमसन ने 1975 में दिल्ली स्थित श्र ...

                                               

वुप्पलादादियम नगय्या

चित्तोर वि॰ नगय्या भारतीय अभिनेता, फ़िल्म निर्देशक, निर्माता, लेखक और पार्श्व गायक थे। उन्हें भारत सरकार ने १९६५ में पद्म श्री से पुरस्कृत किया।

                                               

शीला झुनझुनवाला

शीला झुनझुनवाला दिल्ली की एक पत्रकार हैं। टाइम्स ऑफ इण्डिया तथा हिन्दुस्तान टाइम्स प्रकाशन समूह की हिन्दी साहित्यिक पत्रिकाऑं का उन्होंने सम्पादन किया। भारत सरकार ने उन्हें साहित्य और शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्यों के लिये सन् १९९१ में प ...

                                               

संजीव कपूर

संजीव कपूर एक भारतीय सेलिब्रिटी शेफ, उद्यमी लेखक और टेलीविजन के व्यक्तित्व हैं।इनका जन्म १० अप्रैल १९६४ को अंबाला, पूर्वी पंजाब, भारत में हुआ।वे खाना खज़ाना नमक टीवी कार्यक्रम, जो की एशिया में अपनी तरह का सबसे लंबा टेलीविजन कार्यक्रम था, का हिस्स ...

                                               

सिद्धेश्वरी देवी

सिद्धेश्वरी देवी प्रसिद्ध हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत गायिका थीं। ये वाराणसी से थीं। ये उपनां मां नां से प्रसिद्ध थीं। इनका जन्म १९०८ में हुआ और इनके माता पिता जल्दी ही स्वर्गवासी हो गये और तब इन्हें इनकी मौसी गायिकाराजेश्वरी देवी ने लालन पालन किया।

                                               

हमीदी कश्मीरी

हमीदी कश्मीरी कश्मीरी भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक कविता–संग्रह यथ मिआनी जोए के लिये उन्हें सन् 2005 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। भारत सरकार ने उन्हें 2010 में देश के उच्चतम नागरिक पुरस्कार पद्म श्री से ...

                                               

हलधर नाग

हलधर नाग ओड़ीसा के कोसली भाषा के कवि एवम लेखक हैं। वे लोककवि रत्न के नाम से प्रसिद्ध हैं। भारत सरकार द्वारा उन्हें २०१६ में पद्मश्री से सम्मानित किया गया।

                                               

कमलेश कुमारी

कमलेश कुमारी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की कांस्टेबल थीं, जो 13 दिसम्बर 2001 को संसद पर हुए आतंकी हमले में शहीद हो गईं। उन्हें मरणोपरांत भारत सरकार द्वारा 2001 में वीरता पुरस्कार अशोक चक्र दिया गया। इस सम्मान का वहीं महत्‍व है जो युद्ध काल में परमव ...

                                               

ज्योति प्रकाश निराला

कॉरपोरल ज्योति प्रकाश निराला मरणोपरांत शांति काल के सर्वोच्च सैन्य सम्मान, अशोक चक्र के प्राप्तकर्ता थे। वह भारतीय वायु सेना के गरुड़ कमांडो फोर्स के सदस्य थे। भारतीय वायु सेना की ओर से सुहास बिस्वास और राकेश शर्मा के बाद इस सम्मान को प्राप्त करन ...

                                               

मोहन चंद शर्मा

मोहन चंद शर्मा, एक भारतीय पुलिस इंस्पेक्टर थे, जिन्होंने दिल्ली पुलिस, स्पेशल सेल में सेवा की थी और आतंकवादियों के साथ दिल्ली में बटला हाउस मुठभेड़ के दौरान शहीद हो गए थे। शर्मा बहुत सम्मानित पुलिस अधिकारी थे। उन्हें 26 जनवरी 2009 को सर्वोच्च वीर ...

                                               

हंगपन दादा

हवलदार हंगपन दादा भारतीय सेना के एक जवान थे जो 27 मई 2016 को उत्तरी कश्मीर के शमसाबाड़ी में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए। वीरगति प्राप्त करने से पूर्व उन्होंने 4 हथियारबंद आतंकवादियों को मौत के घाट उतारा। इस शौर्य के लिए 15 अगस्त 2016 ...

                                               

दण्डपाणि जयकान्तन

दण्डपाणि जयकान्तन एक बहुमुखी तमिल लेखक हैं -- केवल लघु-कथाकाऔर उपन्यासकार ही नहीं परन्तु निबन्धकार, पत्रकार, निर्देशक और आलोचक भी हैं। विचित्र बात यह है कि उनकी स्कूल की पढ़ाई कुछ पाँच साल ही रही! घर से भाग कर १२ साल के जयकान्तन अपने चाचा के यहाँ ...

                                               

एस. एल. भैरप्प

एस. एल. भैरप्प कन्नड़ भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक उपन्यास दाटु के लिये उन्हें सन् 1975 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

महाबलेश्वर सैल

महाबलेश्वर सैल कोंकणी भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक कहानी–संग्रह तंरगां के लिये उन्हें सन् 1993 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

अन्नदाशंकर राय

अन्नदाशंकर राय बंगाली भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक यात्रा–वृत्तांत जापाने के लिये उन्हें सन् 1962 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

अर्जन हासिद

अर्जन हासिद सिन्धी भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक कविता–संग्रह मेरो सिज के लिये उन्हें सन् 1985 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

असित राइ

असित राइ नेपाली भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक कविता–संग्रह नया क्षितिजको खोज के लिये उन्हें सन् 1981 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

एम. यू. मलकाणी

एम. यू. मलकाणी सिन्धी भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक सिन्धी गद्य का इतिहास सिन्धी नस्र जी तारीख़ के लिये उन्हें सन् 1969 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

कान्हूचरण मोहांती

कान्हूचरण मोहांती ओड़िया भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक उपन्यास का के लिये उन्हें सन् 1958 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

के. आर. श्रीनिवास आयंगर

के. आर. श्रीनिवास आयंगर अंग्रेज़ी भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक जीवनी ऑन द मदर के लिये उन्हें सन् 1980 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

गुंटूर शेषेन्द्र शर्मा

गुंटूर शेषेन्द्र शर्मा तेलुगू भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक समालोचना काल रेखा के लिये उन्हें सन् 1994 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

                                               

जैनेन्द्र कुमार

प्रेमचंदोत्तर उपन्यासकारों में जैनेंद्रकुमार का विशिष्ट स्थान है। वह हिंदी उपन्यास के इतिहास में मनोविश्लेषणात्मक परंपरा के प्रवर्तक के रूप में मान्य हैं। जैनेंद्र अपने पात्रों की सामान्यगति में सूक्ष्म संकेतों की निहिति की खोज करके उन्हें बड़े क ...

                                               

नीरेन्द्रनाथ चक्रवर्ती

नीरेन्द्रनाथ चक्रवर्ती बंगाली भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक कविता–संग्रह उलंग राजा के लिये उन्हें सन् १९७४ में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उन्हे २०१६ में साहित्य अकादमी फ़ैलोशिप से सम्मानित किया गया।

                                               

नीलमणि फूकन (कनिष्ठ)

नीलमणि फूकन असमिया भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक कविता–संग्रह कविता के लिये उन्हें सन् 1981 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।