ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 375




                                               

बिहार के महत्वपूर्ण स्थलों की सूची

प्राचीन भारत के १६ महाजनपदों में से एक था। सर्वप्रथम अथर्ववेद में उल्लिखित अंग-प्रदेश के अंतर्गत महाभारत के साक्ष्यों के अनुसार आधुनिक भागलपुर, मुंगेऔर उससे सटे बिहाऔर बंगाल के क्षेत्र आते थे। इसकी राजधानी चंपा थी।

                                               

सितवे

सितवे राखिने राज्य की राजधानी, म्यांमार है। सितवे एक कालादान, म्यु और लेम्यो बंगाल की खाड़ी में खाली नदियों के संगम पर निर्मित द्वीप पर स्थित है। शहर 181.000 निवासियों है।

                                               

कश्मीरी दरवाजा, लाहौर

कश्मीरी दरवाजा पुराने लाहौर शहर के १३ दरवाजों में से एक है। यह पाकिस्तान के पंजाब प्रान्त के लाहौर शहर में स्थित है। इसका यह नाम इस दरवाजे के उत्तर पश्चिम में कश्मीर की ओर मुख करके बना होने के कारण दिया गया था। इसके अन्दर जाकर कश्मीरी बाजार नामक ...

                                               

दिल्ली दरवाजा, लाहौर

दिल्ली दरवाजा पुराने दीवार से घिरे पाकिस्तान के लाहौर शहर के छः शेष दरवाजों में से एक प्रवेश द्वार है। दिल्ली दरवाजे एवं निकटस्थ शाही हम्माम का पुनरोद्धार २०१५ में आगा खाँ कल्चरल सर्विस पाकिस्तान द्वारा करवाया गया है।

                                               

लाचुंग

लाचुंग भारत के सिक्किम राज्य में एक कस्बा है। यह तिब्बत से लगते उत्तरी सिक्किम जिले में स्थित है। लाचुंग ९,६०० फुट की ऊंचाई पर लाचेन व लाचुंग नदियों के संगम पर स्थित है। ये नदियां ही आगे जाकर तीस्ता नदी में मिल जाती हैं। यह राज्य कि राजधानी गंगटो ...

                                               

पाक्योंग

पाक्योंग या पाक्किम भारत के सिक्किम राज्य के पूर्व सिक्किम ज़िले में स्थित एक शहर है। यहाँ एक विमानक्षेत्र स्थित है। पाक्योंग में प्रसिद्ध भारतीय फ़ुटबॉल खिलाड़ी, बाईचुंग भूटिया, ने शिक्षा प्राप्त की थी।

                                               

रंगपो

रंगपो भारत के सिक्किम राज्य के पूर्व सिक्किम ज़िले में स्थित एक शहर है। यह तीस्ता नदी के किनारे बसा हुआ है। रंगपो पश्चिम बंगाल की सीमा के पास 200 मीटर की ऊँचाई पर है।

                                               

कदमतला, अण्डमान

कदमतला भारत के अण्डमान व निकोबार द्वीपसमूह के मध्य अण्डमान द्वीप पर स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग 4 इस से गुज़रता है। प्रशासनिक दृष्टि से यह तहसील का दर्जा रखता है

                                               

दिगलीपुर

दिगलीपुर भारत के अण्डमान व निकोबार द्वीपसमूह के उत्तर अण्डमान द्वीप का सबसे बड़ा शहर है। यह एरियल खाड़ी के किनारे बसा हुआ है और कल्पोंग नदी इसके बीच से गुज़रती है, जो अण्डमान द्वीपसमूह की एकमात्र नदी है । पूरे अण्डमान व निकोबार द्वीपसमूह का सबसे ...

                                               

फेरारगंज

फेरारगंज भारत के अण्डमान व निकोबार द्वीपसमूह के दक्षिण अण्डमान द्वीप पर स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग 4 इस से गुज़रता है। प्रशासनिक दृष्टि से यह तहसील का दर्जा रखता है

                                               

मायाबंदर

मायाबंदर भारत के अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह में मध्य अण्डमान द्वीप पर स्थित एक नगर और तहसील है। यह उत्तर और मध्य अण्डमान ज़िले का मुख्यालय भी है। मायाबंदर राष्ट्रीय राजमार्ग 4 द्वारा क्षेत्रीय राजधानी पोर्ट ब्लेयर से जुड़ा हुआ है।

                                               

रंगत

रंगत भारत के अण्डमान व निकोबार द्वीपसमूह के मध्य अण्डमान द्वीप का सबसे बड़ा शहर है। यह अण्डमान व निकोबार की राजधानी पोर्ट ब्लेयर से २१० किमी उत्तर में और मायाबंदर से ७० किमी दक्षिण में स्थित है।

                                               

अनिनी

अनिनी भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के ऊपरी दिबांग घाटी ज़िले में स्थित एक शहर है जो उस ज़िले का मुख्यालय भी है। इदु मिश्मी समुदाय इस क्षेत्र में बहुसंख्यक है।

                                               

आलो

आलो, जो अलोंग भी कहलाता है, अरुणाचल प्रदेश राज्य के पश्चिम सियांग ज़िले में समुद्री स्‍तर से 300 मीटर की ऊँचाई पर स्थित एक नगर है। यह राष्ट्रीय राजमार्ग २२९ पर स्थित है।

                                               

किबिथू

किबिथू भारत के अरुणाचल प्रदेश के अंजॉ ज़िले में स्थित एक क़स्बा है। यह भारत का पूर्वतम स्थाई रूप से आबाद स्थान माना जाता है और उस त्रिबिन्दु के समीप स्थित है जहाँ भारत, तिब्बत और बर्मा की सीमाएँ मिलती हैं। लोहित नदी भी इसी के पास तिब्बत से भारत म ...

                                               

कोलोरिआंग

कोलोरिआंग भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के कुरुंग कुमे ज़िले में स्थित एक शहर है जो उस ज़िले का मुख्यालय भी है। यह कुरुंग नदी के किनारे बसा हुआ है, जो सुबनसिरी नदी की एक मुख्य उपनदी है। कोलोरिआंग 1.000 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है और ऊँचे पर्वतों से ...

                                               

खोन्सा

खोन्सा भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के तिराप ज़िले में स्थित एक शहर है जो उस ज़िले का मुख्यालय भी है। यहाँ के अधिकांश लोग नोक्टे भाषा के मातृभाषी हैं, हालांकि यहाँ हिन्दी भी प्रचलित है और भारत के अन्य राज्यों के लोग भी निवास करते हैं।

                                               

ज़िरो

ज़िरो भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के निचले सुबनसिरी ज़िले में स्थित एक नगर है। यह प्रान्तीय राजधानी ईटानगर से 115 किमी की दूरी पर है। यह एक मुख्य पर्यटन स्थल है। अधिकांश निवासी अपतानी समुदाय के हैं।

                                               

देवमाली

देवमाली के स्थानीय लोग अधिकांश रूप से नोक्टे भाषा के बोलने वाले हैं, हालांकि वाँचो, तुत्सा नागा, आदी, निशि, गालो, असमिया, बंगाली व बिहारी भाषाएँ बोलने वाली भी उपस्थित हैं। हिन्दी भी प्रचलित है।

                                               

पंगिन

पंगिन भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के सियांग ज़िले में स्थित एक नगर है। यह पासीघाट से 60 किमी की दूरी पर बसा हुआ है। शहर से कुछ ही दूरी पर सियोम नदी और सियांग नदी का संगम स्थल है।

                                               

पासीघाट

पासीघाटकी स्थापना सन् 1911 मे हुई थी। इसका नाम क्षेत्र की एक जनजाति, पासी, के नाम पर रखा गया है। पासीघाट को कभी-कभी अरुणाचल प्रदेश राज्‍य का पर्यटन द्वार कहा जाता है। इसकी मनोरम पहाडियाँ और हरी भरी न‍दी घाटियाँ अनेक जनजातियों का आश्रय हैं और यहाँ ...

                                               

बोमडिला

बोमडिला भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के पश्चिम कमेंग ज़िले में स्थित एक नगर है जो उस ज़िले का मुख्यालय भी है। यह राष्ट्रीय राजमार्ग २२९ व अन्य राजमार्गों द्वारा अरुणाचल व कई अन्य राज्यों से जुड़ा हुआ है।

                                               

भालुकपोंग

भालुकपोंग भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के पश्चिम कमेंग ज़िले का एक छोटा सा कस्बा है। यह कामेंग नदी के किनारे बसा हुआ है। सड़क द्वारा भालुकपोंग बोमडिला से लगभग 100 किमी और तेज़पुर से 52 किमी से दूर है। जनवरी के महीने में यहाँ आका समुदाय का न्येकीद ...

                                               

मालिनीथान

मालिनीथान अरुणाचल प्रदेश राज्य के निचले सियांग ज़िले में जमीन से 60 मीटर की ऊँचाई पर स्थित एक हिन्दू धार्मिक स्थल है। मालिनीथान असम और अरूणाचल प्रदेश की सीमा के पास लिकाबाली क्षेत्र में है। सीमा पर मेदानी क्षेत्र समाप्त हो जाते हैं और पर्वत श्रृं ...

                                               

युपिआ

युपिआ भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के पपुम पारे ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले का मुख्यालय भी है। युपिआ राज्य की राजधानी, ईटानगर, से लगभग 20 किमी की दूरी पर है। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान,अरुणाचल प्रदेश जल्द ही यहाँ निर्मित होने वाला है।

                                               

लिकाबाली

लिकाबाली भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य के निचले सियांग ज़िले में स्थित एक शहर है जो उस ज़िले का मुख्यालय भी है। यह असम राज्य कि सीमा के समीप है और इस सीमा के पार असम में भी इसी नाम का एक ग्राम है।

                                               

आमिनगाँव

आमिनगाँव भारत के असम राज्य के कामरुप ज़िले में स्थित एक शहर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है और प्रान्तीय राजधानी गुवाहाटी के समीप ही स्थित है।

                                               

उत्तर लखीमपुर

२००१ की भारतीय जनगणना के अनुसार, उत्तर लखीमपुर की जनसंख्या ५४,२६२ है। जनसंख्या पर आधारित इस शहर को श्रेणी-२ ५०,००० और ९९,९९९ निवासी के बीच आंका गया है। इनमें ५३% पुरुष हैं और ४७% स्त्रियां हैं। उत्तर लखीमपुर की औसत साक्षरता दर ६९% है, जो राष्ट्री ...

                                               

उत्तर शालमारा

उत्तर शालमारा भारत के असम राज्य के बंगाईगाँव ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १७ यहाँ से गुज़रता है और राष्ट्रीय राजमार्ग ११७ का दक्षिणी छोर भी यहाँ है।

                                               

गुवाहाटी

गुवाहाटी असम राज्य की राजधानी शहर है। यह ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे बसा, पूर्वोत्तर भारत का मुख्य शहर है। यह नगर प्राचीन हिंदू मंदिरों के लिए भी जाना जाता है। इस आधुनिक संसार में, जहां सभी कुछ हाइटैक है, वहाँ पिकॉक आइलैंड में बने सुंदर शिव मंदिर म ...

                                               

गोलकगंज

गोलकगंज, जिसे स्थानीय लहजे में गोलोकगंज भी कहा जाता है, भारत के असम राज्य के धुबरी ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १७ यहाँ से गुज़रता है और यहाँ एक रेलवे स्टेशन भी है।

                                               

चबुआ

चबुआ अथवा चबुवा, भारत के असम राज्य के डिब्रूगढ़ जिले के अंतर्गत आने वाला एक नगर और नगर समिति है. यह नगर डिब्रूगढ़ और तिनसुकिया के बीच में राष्ट्रीय राजमार्ग ३७ पर स्थित है. दोनों जिलों से इसकी दूरी क्रमशः ३० किमी और २० किमी है.

                                               

जोरहाट

भोगदोई नदी के किनारे बसा जोरहाट असम का म‍हत्‍वपूर्ण शहर माना जाता है। इसकी स्थापना 18 वीं सदी के अन्तिम दशक में हुई थी। यहां पर चौकीहाट और माचरहाट नाम के दो बाजार हैं। इसी कारण इसका नाम जोरहाट रखा गया है। यहां पर विभिन्न संस्कृतियों और जातियों से ...

                                               

जोराबात

जोराबात भारत के असम और मेघालय राज्यों की सीमा पर स्थित एक बस्ती है। इसका कुछ भाग दोनों राज्यों में आता है। प्रशासनिक रूप से यह असम के कामरूप महानगर ज़िले और मेघालय के री-भोई ज़िले में स्थित है। यहाँ से भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग ६ आरम्भ होता है।

                                               

डिफू

डिफू, जो रोंगसोपी भी कहलाता है, असम राज्य के कार्बी आंगलोंग जिले का मुख्यालय है। यह छोटा पहाड़ी शहर आस पास के आकर्षक स्थानों के लिए पर्यटक के वीच मैं काफी प्रसिद्द हैं ।

                                               

डिब्रूगढ़

डिब्रूगढ़ भारत के असम राज्य के डिब्रूगढ़ ज़िले में स्थित एक शहर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है। अहोम भाषा की बुरंजी ऐतिहासिक कृतियों में शहर का नाम ती-फाओ दिया गया है, जिसका अर्थ "स्वर्ग-स्थल" है।

                                               

तिनसुकिया

तिनसुकिया भारत के असम प्रदेश का एक छोटा सा शहर, तिनसुकिया जिले का प्रशासनिक मुख्यालय तथा नगर निगम बोर्ड है। यह असम राज्य का एक प्रमुख क्षेत्रीय व्यापारिक केंद्र भी है। यह असम कि राजधानी गुवाहाटी से 486 किलोमीटर की दूरी पर उत्तर-पूर्व में और अरुणा ...

                                               

तेज़पुर

तेज़पुर भारत के असम राज्य के शोणितपुर ज़िले में स्थित एक शहर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है और ब्रह्मपुत्र नदी के उत्तरी किनारे पर स्थित है। पहले तेजपुर को शोणितपुर के नाम से जाना जाता था, जो अब ज़िले का नाम है। यह एक शांत जगह है, जहाँ अनेक उद ...

                                               

दिसपुर

दिसपुर भारत के पूर्वोत्तर मे स्थित बड़े राज्य असम की राजधानी है। यह असम के सबसे बड़े शहर गुवाहाटी के एक सिरे पर बसा एक नगर है। इसे सन १९७३ मे राज्य की राजधानी का दर्जा मिला क्योंकि इससे पहले राज्य की राजधानी शिलाँग थी लेकिन मेघालय के गठन के पश्चा ...

                                               

धुबरी

धुबरी बांग्लादेश सीमा के ठीक पूर्व में ब्रह्मपुत्र नदी पर स्थित है। यह चावल, पटसन, मछली और अन्य उत्पादों का व्यापार केंद्र है। यहाँ का मुख्य उद्योग एक माचिस कारख़ाना था। लेकिन अब ये बंद है।

                                               

नगाँव

नगाँव भारत के असम प्रान्त के नगांव जिले का एक नगर है। यह गौहाटी से १२० किमी पूरब में कलंग नदी के तट पर स्थित है। यह असम का ५वाँ सबसे बड़ा नगर है। पहले इसका नाम नौगाँव था। नगांव कृषि व्यापार केंद्र है और यहाँ गुवाहाटी विश्वविद्यालय से संबद्ध कई हो ...

                                               

नलवारी

"नलवारी" शब्द "नल" और "वारी" इस दो शब्द से निकला हैं।"नल" शब्द का अर्थ होता हैं "ईख" और "वारी" का मतलव होता हैं एक संरक्षित इलाका जहाँ खेत की जाती हैं ।

                                               

नुमालीगढ़

नुमालीगढ़ भारत के असम राज्य के गोलाघाट ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १२९ का उत्तरी अंत यहाँ स्थित है। यहाँ एक बड़ी तेल की रिफ़ाइनरी भी स्थित है।

                                               

पाथारकान्दि

पाथारकान्दि भारत के असम राज्य के करीमगंज ज़िले में स्थित एक शहर है। यहाँ एक रेलवे स्टेशन है और यह राष्ट्रीय राजमार्ग ८ पर भी स्थित है। यह भारत व बंगलादेश की सीमा के समीप है और लोंगाई नदी के किनारे बसा हुआ है।

                                               

बरपेटा

बरपेटा को वैष्णव सम्‍प्रदाय का गढ़ माना जाता है। यह भारतके पूर्वी राज्य असम के बरपेटा जिला में पड़ता है। इसको कई नामों जैसे तातिकूची, पोराभिता, मथुरा, वृंदावन, चौखुटीस्थान, नवरत्न-सभा, इचाकुची, पुष्पक विमान और कामरूप के नाम से भी जाना जाता है। इस ...

                                               

बिजनी

बिजनी भारत के असम राज्य के चिरांग ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है। राष्ट्रीय राजमार्ग ११७ का उत्तरी छोर यहाँ है।

                                               

बिलासीपाड़ा

बिलासीपाड़ा भारत के असम राज्य के धुबरी ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १७ यहाँ से गुज़रता है और यहाँ एक रेलवे स्टेशन भी है।

                                               

बोको, असम

बोको भारत के असम राज्य के कामरूप ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १७ यहाँ से गुज़रता है और यहाँ एक रेलवे स्टेशन भी है। बोको राज्य की राजधानी, गुवाहाटी,से 55 किमी पश्चिम में है।

                                               

मरिगाँव

मरिगाँव भारत के असम राज्य के मरिगाँव ज़िले में स्थित एक शहर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है और प्रान्तीय राजधानी गुवाहाटी के समीप ही स्थित है।

                                               

मायंग

मायंग असम के मरिगाँव ज़िले का एक गाँव है जो काले जादू के लिए प्रसिद्ध है। यह गाँव ब्रह्मपुत्र नदी के तट पर बसा हुआ है और गुवाहाटी से लगभग ४० किमी की दूरी पर है। पूर्व काल में इसे काले जादू की धूरी कहा जाता था जिसके कारण आज भी यह पर्यटकों के आकर्ष ...