ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 376




                                               

उत्तर लखीमपुर

२००१ की भारतीय जनगणना के अनुसार, उत्तर लखीमपुर की जनसंख्या ५४,२६२ है। जनसंख्या पर आधारित इस शहर को श्रेणी-२ ५०,००० और ९९,९९९ निवासी के बीच आंका गया है। इनमें ५३% पुरुष हैं और ४७% स्त्रियां हैं। उत्तर लखीमपुर की औसत साक्षरता दर ६९% है, जो राष्ट्री ...

                                               

उत्तर शालमारा

उत्तर शालमारा भारत के असम राज्य के बंगाईगाँव ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १७ यहाँ से गुज़रता है और राष्ट्रीय राजमार्ग ११७ का दक्षिणी छोर भी यहाँ है।

                                               

गुवाहाटी

गुवाहाटी असम राज्य की राजधानी शहर है। यह ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे बसा, पूर्वोत्तर भारत का मुख्य शहर है। यह नगर प्राचीन हिंदू मंदिरों के लिए भी जाना जाता है। इस आधुनिक संसार में, जहां सभी कुछ हाइटैक है, वहाँ पिकॉक आइलैंड में बने सुंदर शिव मंदिर म ...

                                               

गोलकगंज

गोलकगंज, जिसे स्थानीय लहजे में गोलोकगंज भी कहा जाता है, भारत के असम राज्य के धुबरी ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १७ यहाँ से गुज़रता है और यहाँ एक रेलवे स्टेशन भी है।

                                               

चबुआ

चबुआ अथवा चबुवा, भारत के असम राज्य के डिब्रूगढ़ जिले के अंतर्गत आने वाला एक नगर और नगर समिति है. यह नगर डिब्रूगढ़ और तिनसुकिया के बीच में राष्ट्रीय राजमार्ग ३७ पर स्थित है. दोनों जिलों से इसकी दूरी क्रमशः ३० किमी और २० किमी है.

                                               

जोरहाट

भोगदोई नदी के किनारे बसा जोरहाट असम का म‍हत्‍वपूर्ण शहर माना जाता है। इसकी स्थापना 18 वीं सदी के अन्तिम दशक में हुई थी। यहां पर चौकीहाट और माचरहाट नाम के दो बाजार हैं। इसी कारण इसका नाम जोरहाट रखा गया है। यहां पर विभिन्न संस्कृतियों और जातियों से ...

                                               

जोराबात

जोराबात भारत के असम और मेघालय राज्यों की सीमा पर स्थित एक बस्ती है। इसका कुछ भाग दोनों राज्यों में आता है। प्रशासनिक रूप से यह असम के कामरूप महानगर ज़िले और मेघालय के री-भोई ज़िले में स्थित है। यहाँ से भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग ६ आरम्भ होता है।

                                               

डिफू

डिफू, जो रोंगसोपी भी कहलाता है, असम राज्य के कार्बी आंगलोंग जिले का मुख्यालय है। यह छोटा पहाड़ी शहर आस पास के आकर्षक स्थानों के लिए पर्यटक के वीच मैं काफी प्रसिद्द हैं ।

                                               

डिब्रूगढ़

डिब्रूगढ़ भारत के असम राज्य के डिब्रूगढ़ ज़िले में स्थित एक शहर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है। अहोम भाषा की बुरंजी ऐतिहासिक कृतियों में शहर का नाम ती-फाओ दिया गया है, जिसका अर्थ "स्वर्ग-स्थल" है।

                                               

तिनसुकिया

तिनसुकिया भारत के असम प्रदेश का एक छोटा सा शहर, तिनसुकिया जिले का प्रशासनिक मुख्यालय तथा नगर निगम बोर्ड है। यह असम राज्य का एक प्रमुख क्षेत्रीय व्यापारिक केंद्र भी है। यह असम कि राजधानी गुवाहाटी से 486 किलोमीटर की दूरी पर उत्तर-पूर्व में और अरुणा ...

                                               

तेज़पुर

तेज़पुर भारत के असम राज्य के शोणितपुर ज़िले में स्थित एक शहर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है और ब्रह्मपुत्र नदी के उत्तरी किनारे पर स्थित है। पहले तेजपुर को शोणितपुर के नाम से जाना जाता था, जो अब ज़िले का नाम है। यह एक शांत जगह है, जहाँ अनेक उद ...

                                               

दिसपुर

दिसपुर भारत के पूर्वोत्तर मे स्थित बड़े राज्य असम की राजधानी है। यह असम के सबसे बड़े शहर गुवाहाटी के एक सिरे पर बसा एक नगर है। इसे सन १९७३ मे राज्य की राजधानी का दर्जा मिला क्योंकि इससे पहले राज्य की राजधानी शिलाँग थी लेकिन मेघालय के गठन के पश्चा ...

                                               

धुबरी

धुबरी बांग्लादेश सीमा के ठीक पूर्व में ब्रह्मपुत्र नदी पर स्थित है। यह चावल, पटसन, मछली और अन्य उत्पादों का व्यापार केंद्र है। यहाँ का मुख्य उद्योग एक माचिस कारख़ाना था। लेकिन अब ये बंद है।

                                               

नगाँव

नगाँव भारत के असम प्रान्त के नगांव जिले का एक नगर है। यह गौहाटी से १२० किमी पूरब में कलंग नदी के तट पर स्थित है। यह असम का ५वाँ सबसे बड़ा नगर है। पहले इसका नाम नौगाँव था। नगांव कृषि व्यापार केंद्र है और यहाँ गुवाहाटी विश्वविद्यालय से संबद्ध कई हो ...

                                               

नलवारी

"नलवारी" शब्द "नल" और "वारी" इस दो शब्द से निकला हैं।"नल" शब्द का अर्थ होता हैं "ईख" और "वारी" का मतलव होता हैं एक संरक्षित इलाका जहाँ खेत की जाती हैं ।

                                               

नुमालीगढ़

नुमालीगढ़ भारत के असम राज्य के गोलाघाट ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १२९ का उत्तरी अंत यहाँ स्थित है। यहाँ एक बड़ी तेल की रिफ़ाइनरी भी स्थित है।

                                               

पाथारकान्दि

पाथारकान्दि भारत के असम राज्य के करीमगंज ज़िले में स्थित एक शहर है। यहाँ एक रेलवे स्टेशन है और यह राष्ट्रीय राजमार्ग ८ पर भी स्थित है। यह भारत व बंगलादेश की सीमा के समीप है और लोंगाई नदी के किनारे बसा हुआ है।

                                               

बरपेटा

बरपेटा को वैष्णव सम्‍प्रदाय का गढ़ माना जाता है। यह भारतके पूर्वी राज्य असम के बरपेटा जिला में पड़ता है। इसको कई नामों जैसे तातिकूची, पोराभिता, मथुरा, वृंदावन, चौखुटीस्थान, नवरत्न-सभा, इचाकुची, पुष्पक विमान और कामरूप के नाम से भी जाना जाता है। इस ...

                                               

बिजनी

बिजनी भारत के असम राज्य के चिरांग ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है। राष्ट्रीय राजमार्ग ११७ का उत्तरी छोर यहाँ है।

                                               

बिलासीपाड़ा

बिलासीपाड़ा भारत के असम राज्य के धुबरी ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १७ यहाँ से गुज़रता है और यहाँ एक रेलवे स्टेशन भी है।

                                               

बोको, असम

बोको भारत के असम राज्य के कामरूप ज़िले में स्थित एक शहर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १७ यहाँ से गुज़रता है और यहाँ एक रेलवे स्टेशन भी है। बोको राज्य की राजधानी, गुवाहाटी,से 55 किमी पश्चिम में है।

                                               

मरिगाँव

मरिगाँव भारत के असम राज्य के मरिगाँव ज़िले में स्थित एक शहर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है और प्रान्तीय राजधानी गुवाहाटी के समीप ही स्थित है।

                                               

मायंग

मायंग असम के मरिगाँव ज़िले का एक गाँव है जो काले जादू के लिए प्रसिद्ध है। यह गाँव ब्रह्मपुत्र नदी के तट पर बसा हुआ है और गुवाहाटी से लगभग ४० किमी की दूरी पर है। पूर्व काल में इसे काले जादू की धूरी कहा जाता था जिसके कारण आज भी यह पर्यटकों के आकर्ष ...

                                               

राहा

राहा भारत के असम राज्य के नागांव जिले का एक कस्बा और विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र है। यह कलांग ओर कपलि नदियों के किनारे है। यहाँ आसम के पहले मुख्यमंत्री का जन्म हुआ था।

                                               

लखीपुर

यदि आप बिहार में इस से मिलते-जुलते नगर के बारे में जानकारी खोज रहें हैं तो लखिपुर का लेख देखें लखीपुर भारत के असम राज्य के काछार ज़िले में स्थित एक शहर है।

                                               

लेडो, असम

लेडो भारत के असम राज्य के तिनसुकिया ज़िले में स्थित एक शहर है। यह बड़ी लाइन का भारत का पूर्व का अन्तिम स्टेशन है। लेडो मार्ग यहीं से आरम्भ होता है।

                                               

शिवसागर

शिवसागर, भारत के राज्य असम के शिवसागर जिले का एक शहर और जिले का मुख्यालय है। यह असम की राजधानी गुवाहाटी के उत्तर पूर्व में 360 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। असम में शिवसागर एक धरोहर स्थल है क्योंकि यहां पूर्ववर्ती अहोम राष्ट्र के बहुत से स्मारक स ...

                                               

सदिया

सदिया भारत के असम राज्य के पूर्वोत्तरी भाग में तिनसुकिया ज़िले में अरुणाचल प्रदेश की सीमा के समीप स्थित एक ऐतिहासिक स्थान है। यह सुतीया राजवंश की तीसरी राजधानी थी और इसकी स्थापना सन् १२४८ में सुतीया वंश के दूसरे राजा, रत्नध्वजपाल, ने की थी। यह सन ...

                                               

सिलचर

शिलचर असम का एक प्रमुख शहर है। यह असम का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। सिलचर काछाड़ जिले में आता है। यह गुवाहाटी से ४२० किमी २६१ मील दूर स्थित है। यह मिजोरम और मणिपुर का अर्थनैतिक रास्ता है। इस शहर में भारत के दूर-दराज़ के इलाकों से व्यावसायिक लोग आकार ...

                                               

आदोनी

हैदराबाद से 225 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में चेन्नई-मुंबई भूतपूर्व मद्रास-बंबई रेलमार्ग पर स्थित आदोनी एक समय मध्यकाल के शक्तिशाली हिन्दू राज्य विजयनगर के शासकों का गठ हुआ करता था। बाद में 1792 तक इस पर मुसलमानो का नियंत्रण रहा। 1792 में इस पर क़ब् ...

                                               

एलुरु

एलुरु, जो एल्लोर भी कहलाता था, भारत के आन्ध्र प्रदेश राज्य के पश्चिम गोदावरी ज़िले में स्थित एक नगर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है।

                                               

कडपा

कडपा भारत के आंध्रप्रदेश राज्य के दक्षिण-मध्य में स्थित एक शहर है। यह कडपा जिला का जिला मुख्यालय भी है। कड़पा शब्द की उत्पत्ति तेलुगु शब्द गडपा से हुई है जिसका अर्थ द्वार होता है। पहले ये कड़प्पा नाम से जाना जाता था बाद में कड़पा हो गया। मध्यकाल ...

                                               

कदिरी

कदिरी भारत आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले का एक शहर है । यह एक नगर पालिका, मंडल मुख्यालय और कदिरी रेवेनुए डिवीज़न मुख्यालय भी कदिरी है।

                                               

कर्नूल

कर्नूल, आंध्रप्रदेश राज्य के बड़े शहरों में से एक है। यह तुंगभद्रा नदी के किनारे बसा है। आंध्र प्रदेश के अवरतण के पूर्व कर्नूल नवंबर १, १९५६ तक आंध्र राष्ट्र का राजधानी रहा। कर्नूल भारत आंध्र प्रदेश के करनूल जिले का मुख्यालय है। शहर को अक्सर रायल ...

                                               

कुप्पम

कुप्पम बंगलौर से १०५ किमी और चेन्नई से २५० किमी दूर है। यह कस्बा ग्रेनाइट की खदानों और ग्रेनाइट प्रकारों के लिए प्रसिद्ध है। कुप्पम ग्रीन नाम इस कस्बे के नाम पर पड़ा है। कुप्पम अब एक शैक्षणिक केन्द्र है जहाँ पर एक अभियान्त्रिकी महाविद्यालय, मॅडिक ...

                                               

गुंटूर

गुंटूर आंध्र प्रदेश प्रान्त का एक शहर है। आंध्र प्रदेश के उत्‍तर पूर्वी भाग में कृष्‍णा नदी डेल्‍टा में स्थित है गुंटूर। विजयवाड़ा-चेन्‍नई ट्रंक रोड पर स्थित गुंटूर की स्‍थापना फ्रांसिसी शासकों ने आठवीं शताब्‍दी के मध्‍य में की थी। करीब 10 शताब्द ...

                                               

धरणीकोटा

धरणीकोटा के उत्खननों में सबसे महत्त्वपूर्ण खोज पत्थर से काटकर बनागई नौ परिवहन नहर है, जिसके साथ एक जहाज़ घाट भी प्रकाश में आया है। धरणीकोटा से प्राप्त पुरा वस्तुओं में दाँतेदार चिन्ह वाले भाण्ड आरेटाइन ठीकरे और रोमन दोहत्थे कलश शामिल हैं, जो रोमन ...

                                               

नागार्जुनकोंडा

नागार्जुनकोंडा आंध्र प्रदेश राज्य के नलगोंडा ज़िले में स्थित एक ऐतिहासिक नगर है। हैदराबाद से 100 मील दक्षिण-पूर्व की ओर स्थित नागार्जुनकोंडा एक प्राचीन स्थान है। यह बौद्ध महायान के प्रसिद्ध आचार्य नागार्जुन ई. के नाम पर प्रसिद्ध है। प्रथम शताब्दी ...

                                               

नेल्लौर

पन्‍नार नदी के किनारे बसा आंध्र प्रदेश का खूबसूरत शहर है नैल्‍लोर। यह नेल्लौर जिला का मुख्यालय है। नैल्‍लोऔर उसके आसपास के क्षेत्र में धान की खेती बहुतायत में होती है। इसी कारण इस स्‍थान का नाम नैल्‍लोर पड़ा। नैल्‍लोर को विक्रमसिम्‍हपुरी के नाम स ...

                                               

पुट्टपर्थी (नगर)

पुट्टपर्थी, भारत के दक्षिण मे स्थित राज्य आन्ध्र प्रदेश के जिले अनंतपुर में स्थित एक छोटा सा कस्बा है। इस स्थान की प्रसिद्धि का कारण यहां भारत के प्रसिद्ध आध्यात्मिक गुरु सत्य साईं बाबा की जन्मस्थान और निवासस्थान होना है। इस कस्बे का मुख्य आकर्षण ...

                                               

प्रोद्दटूरू

प्रोद्दटूरू आंध्र प्रदेश राज्य के कडपा जिला में एक शहर है। यह पेन्ना नदी के तट पर स्थित है। यह शहर एक नगर पालिका है और प्रोद्दटूरू मंडल का मंडल मुख्यालय भी है । यह क्षेत्र के एतेबार से सबसे छोटा नगरपालिका है, लेकिन जनसंख्या के मामले में राज्य में ...

                                               

मछलीपट्टनम

मछलीपट्टनम भारत के आन्ध्र प्रदेश राज्य के कृष्णा ज़िले में स्थित एक शहर है। यह कृष्णा जिले का मुख्यालय एवं नगरपालिका है। यह मचहलीपट्टनम मण्डल का मण्डल मुख्यालय भी है। यह नगर १४वीं शताब्दी में स्थापित हुआ था तथा १७वीं शताब्दी में ब्रिटिश, डच एवं फ ...

                                               

मदनपल्ली

मदनपल्ली - आंध्रप्रदेश, चित्तूर जिले का एक शेहर और पुरपालिका है। यह एक मंडल और मदनपल्ली राजस्व प्रभाग का मुख्यालय है। यहां पर रेशमी साडियां बुनने और तयार करने के कारखाने जियादा है।

                                               

राजमंड्री

राजमंड्री भारत के आन्ध्र प्रदेश राज्य के पूर्व गोदावरी ज़िले में स्थित एक शहर है। इसे कभी-कभी आन्ध्र प्रदेश की सांस्कृतिक राजधानी कहा जाता है। इस का प्राचीन नाम "राजा महेंद्र वरम" या राजमहेंद्रवरम था जो इसका औपचारिक सरकारी नाम भी है।

                                               

विजयनगरम

विजयनगरम भारत के आंध्र प्रदेश राज्य के विजयनगरम ज़िले का एक नगर है जो भीमुनिपट्टनम बंदरगाह से २५ किमी, उत्तर-पूर्व रेलमार्ग की हाबड़ा-पुरी-वाल्टेयर शाखा पर एक जंकशन है। यहाँ सैनिक छावनी है एवं विजयनगर के जमींदार का निवास स्थान भी है।

                                               

विजयवाड़ा

विजयवाड़ा आंध्र प्रदेश प्रान्त का एक शहर है। विजयवाड़ा आंध्र प्रदेश के पूर्व-मध्य में कृष्णा नदी के तट पर स्थित है। दो हज़ार वर्ष पुराना यह शहर बैजवाड़ा के नाम से भी जाना जाता है। यह नाम देवी कनकदुर्गा के नाम पर है, जिन्हें स्थानीय लोग विजया कहते ...

                                               

विशाखपट्नम

विशाखापट्नम आन्ध्र प्रदेश के उत्तरी सरकार तट पर गोदावरी नदी के मुहाने के उत्तर में अवस्थित एक भारत का चौथा सबसे बड़ा पोताश्रय है। यह विशाखापत्तनम जिले का मुख्यालय तथा भारतीय नौसेना के पूर्वी कमांड का केन्द्र है। यहाँ जलयान बनाने का कारखाना है। यह ...

                                               

श्रीकाकुलम

श्रीकाकुलम प्रान्त के उत्तरी-पूर्वी भाग में स्थित है। इसी कस्बे के नाम से श्रीकाकुलम विधान सभा चुनाव क्षेत्र तथा श्रीकाकुलम संसदीय चुनाव क्षेत्र भी है। इसे पहले गुलशनाबाद कहते थे। अंग्रेजी राज के समय में इसका नाम चिकाकोल Chicacole रखा गया। स्वतन् ...

                                               

श्रीहरीकोटा

श्रीहरिकोटा भारत के दक्षिणी राज्य आंध्र प्रदेश के तट पर बसा एक द्वीप है, भारत का एकमात्र उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र जो सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र में है, जिसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान द्वारा प्रयोग किया जाता है जहाँ बहुचरण रॉकेट जैसे ध्रुवीय उपग्रह प् ...

                                               

अकबरपुर

अकबरपुर उत्तर प्रदेश प्रान्त का एक शहर है। वर्तमान समय यह अम्बेडकर नगर का जिला मुख्यालय है। पावन सरयू नदी इस जनपद का मुख्य आकर्षण है। यह भूमि प्रभु श्री राम की लीला स्थली होने के कारण तीर्थ भूमि है। यहां के भव्य प्राचीन मन्दिर यवनो के आक्रमण में ...