ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 390




                                               

अर्वाईखीर

अर्वाईखीर मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय ऊवूखांगाई है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 19.058 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 24.200 है।

                                               

अल्ताई (शहर)

अल्ताई मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय गोवी-अल्ताई है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 18.023 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 19.300 है।

                                               

उलानगोम

उलानगोम मंगोलिया का एक शहर है। यह उव्स प्रांत की राजधानी है। यह उव्स झील के दक्षिण-पश्चिमी छोर से २६ किमी दूऔर ख़रख़िरा पर्वत के पास स्थित है। यह रूस की सीमा के बहुत समीप है। उलानगोम की पूरी विद्युत रूस से आती है और उस देश के तूवा गणतंत्र का यहाँ ...

                                               

उलियास्ताइ

उलियास्ताइ मंगोलिया का शहर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 24.276 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 16.300 है।

                                               

एरदेनेत

एरदेनेत मंगोलिया का तीसरा सबसे बड़ा शहर है और उस देश के ओरख़ोन प्रान्त की राजधानी है। प्रशासनिक दृष्टि से यह मंगोलिया में एक सुम का दर्जा रखता है और इसका औपचारिक नाम बयन ओएनदोर है। एरदेनेत नगर देश के उत्तरी भाग में सेलेन्गा नदी और ओरख़ोन नदी के ब ...

                                               

ओन्दूरखान

ओन्दूरखान मंगोलिया का शहर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 18.003 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 14.800 है।

                                               

ओल्जियाई (शहर)

ओल्जियाई मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय बयन-ओल्जियाई है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 28.060 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 28.486 है।

                                               

ख़ोव्द (शहर)

ख़ोव्द मंगोलिया का एक शहर है और इसी नाम के ख़ोव्द प्रांत की राजधानी है। यह पूरे मंगोलिया में अपने तरबूज़ व टमाटर के लिये जाना जाते है और यहाँ का माँस भी मंगोलिया में लोकप्रिय है। ख़ोव्द शहर अल्ताई पर्वतों के चरणों में स्थित है।

                                               

खारखोरिन

स्रोत - वाल्मीकि रामायण कार्बन मंगोलियाई भाषा:Хархорин मंगोलिया का शहर है. इस जिले का मुख्यालय ubukhosi है. इस शहर की जनसंख्या 8.9772003 गणना वर्ष २००६ अनुसार है.

                                               

चोइर (शहर)

चोइर मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय गोविसुंबर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 8.983 वर्ग किलोमीटर है इस शहर की जनसंख्या 7.540 है।

                                               

ज़मीन-ऊद

ज़मीन-ऊद मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय दोर्नोगोवी है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 5.486 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 9.665 है।

                                               

ज़ूंखारा, सेलेंगे

स्रोत - वाल्मीकि रामायण रविवार, सेलेना मंगोलियाई भाषा:Зүүнхараа मंगोलिया का शहर है. जिला मुख्यालय, सेलेना है. इस शहर की जनसंख्या 15.0002004 गणना वर्ष २००६ अनुसार है.

                                               

ज़ूनमोद

ज़ूनमोद मंगोलिया का शहर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 16.227 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 14.660 है।

                                               

त्सेत्सेर्लेग (शहर)

त्सेत्सेर्लेग मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय अर्खंगाई है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 16.553 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 16.300 है।

                                               

दरख़ान (शहर)

दरख़ान मंगोलिया का एक शहर है। यह दरख़ान-ऊल प्रान्त की राजधानी है और इसकी स्थापना सन् १९६१ में राष्ट्रीय राजधानी, उलान बतोर, में भीड़ कम करने के लिये हुई थी। मंगोल भाषा में दरख़ान का अर्थ लोहार होता है। इस नगर का निर्माण सोवियत संघ की भारी साहयता ...

                                               

दलनज़दगद

दलनज़दगद मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय ओम्नोगोवी है इस शहर का कुल क्षेत्रफल 14.183 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 14.000 है

                                               

नालाइख

नालाइख मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय उलान बटोर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 23.600 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 27.297 है।

                                               

बगन्नूर

बगन्नूर मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय उलान बटोर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 21.100 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 25.731 है।

                                               

बयनखोंगोर

बयनखोंगोर मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय बयनखोंगोर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 22.066 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 26.252 है।

                                               

बरून-उर्त

बरून-उर्त मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय सुखबातर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 15.133 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 12.300 है।

                                               

बल्गान (शहर)

बल्गान मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय बल्गान है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 16.239 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 11.198 है।

                                               

बोर-ओन्दोर, खेन्तियाई

बोर-ओन्दोर, खेन्तियाई मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय खेन्तियाई है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 6.406 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 8.510 है।

                                               

मन्दालगोवी

मन्दालगोवी मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय दुन्दगोवी है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 14.517 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 10.506 है।

                                               

शैरिंगोल, दर्खान-ऊल

शैरिंगोल, दर्खान-ऊल मंगोलिया का शहर है। इस जिले का मुख्यालय दर्खान-ऊल है। इस शहर की जनसंख्या 9.000 है।

                                               

साइन्शान्द

साइन्शान्द मंगोलिया का शहर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल २५,२१० वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या १७,६३१ है।

                                               

सूखबातर (शहर)

यदी आप इसी नाम के प्रांत पर जानकारी ढूंढ रहें हैं तो सूख़बातर प्रांत का लेख देखें सूखबातर मंगोलिया का शहर है। इस शहर का कुल क्षेत्रफल 22.374 वर्ग किलोमीटर है। इस शहर की जनसंख्या 19.862 है।

                                               

मोरातुवा

मोरातुवा श्रीलंका की राजधानी कोलंबो शहर का एक बड़ा उपनगर है, जो देहीवाला-माउंट लविनीआ के पास श्रीलंका के दक्षिण-पश्चिमी तट पर है। यह गैले-कोलंबो मुख्य राजमार्ग पर स्थित है। यह उपनगर कोलंबो शहर केंद्र से १८ किलोमीटर दक्षिण में स्थित है। मोरातुवा प ...

                                               

विश्व व्यापार केन्द्र, कोलम्बो

विश्व व्यापार केन्द्र श्रीलंका की राजधानी कोलम्बो में स्थित देश की सबसे ऊँची इमारत और सबसे ऊँची जुड़वाँ इमारतें हैं। ये जुड़वा इमारतें कोलम्बों में बीरा झील के निकट स्थित हैं। १५२ मीटर ऊँची इन इमारतों में प्रत्येक में ४० तल हैं और ये दक्षिण एशिया ...

                                               

भारतीय शांति रक्षा सेना

भारतीय शांति रक्षा सेना भारतीय सेना दल था जो 1987 से 1990 के मध्य श्रीलंका में शांति स्थापना ऑपरेशन क्रियान्वित कर रहा था। इसका गठन भारत-श्रीलंका संधि के अधिदेश के अंतर्गत किया गया था जिस पर भारत और श्रीलंका ने 1987 में हस्ताक्षर किये थे जिसका उद ...

                                               

महिन्द चतुर्थ

महिन्द चतुर्थ १०वीं शताब्दी में अनुराधापुर का शासक था। उसका शासनकाल ९७५ ई से ९९१ ई तक था। उसके ही शासनकाल में सिंहल द्वीप में महाबोधिवंश की रचना हुई थी। अपने भाई सेन चतुर्थ की मृत्यु के पश्चात वह अनुराधापुर का राजा बना। उसके पश्चात उसका पुत्र सेन ...

                                               

श्रीलंका का स्वतंत्रता संग्राम

श्रीलंका का स्वतंत्रता संग्राम ब्रितानी साम्राज्य से आजाद होने तथा स्वशासन स्थापित करने के लिये लड़ा गया था। यह शान्तिपूर्ण राजनीतिक आन्दोलन था। यह आन्दोलन बीसवीं शताब्दी के आरम्भिक दिनों में शुरू हुआ। इसका नेतृत्व शिक्षित मध्यम वर्ग ने किया और अ ...

                                               

सिगिरिय

सिगिरिय, तमिल: சிகிரியா ; संस्कृत के सिंहगिरि से व्युत्पन्न) श्रीलंका के केंद्रीय मातले जिले में स्थित विशाल पाषाण, प्राचीन शैल-दुर्ग तथा राजमहल का खंडहर है। इसके चारो ओर घने बाग, जलाशय तथा अन्य भवन हैं। यह एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है। यह अपने प्र ...

                                               

जाफना

जाफना श्रीलंका के उत्तरी प्रान्त राजधानी है। यह जाफना जिले का मुख्यालय भी है। इसकी जनसंख्या 88.138 है तथा यह श्री लंका का वारहवाँ सबसे बड़ा नगर है।

                                               

बट्टिकलोआ जिला

बट्टिकलोवा जिला श्रीलंका के २५ प्रशासनिक जिलों में से एक है। जिले का प्रशासनिक अधिकार जिला सचिव होता है जिसकी नियुक्ति श्रीलंका सरकार द्वारा की जाती है। इस जिले का जिला मुख्यालय बट्टिकलोवा में स्थित है। बट्टिकलोवा जिले के दक्षिणी भाग से 1958 में ...

                                               

अम्पारा

अम्पारा श्रीलंका के अम्पारा जिले का प्रमुख कस्बा है। यह पूर्वी प्रान्त, श्रीलंका में स्थित है, जिसकी दूरी कोलम्बो से 360 किमी की है।

                                               

कुरुनेगल

कुरुनेगल, श्रीलंका का एक प्रमुख शहर है। यह श्रीलंका के उत्तर पश्चिमी प्रांत और कुरुनेगल जिला की राजधानी शहर है। कुरुनेगल, 13वीं सदी की शुरुआत से 14वीं, लगभग 50 साल तक, एक प्राचीन शाही राजधानी रहा है। यह देश के कई मुख्य सड़कों का एक जंक्शन है, जोक ...

                                               

कोलंबो

कोलंबो, श्रीलंका का सबसे बड़ा नगर तथा राजधानी है। यह शहर नए तथा औपनिवेशिक इमारतों का सुन्दर सम्मिश्रण है। कोलंबो का इतिहास दो हजार साल से भी पुराना है। कोलंबो नाम के पीछे कई कहानियां प्रचलित है। एक कहानी के अनुसार कोलंबो नाम का उच्‍चारण सर्वप्रथम ...

                                               

हम्बनटोटा

हम्बनटोटा श्रीलंका के दक्षिणी प्रान्त में स्थित हम्बनटोटा जिले का मुख्यालय है। यह पिछड़ा हुआ क्षेत्र २००४ में हिन्द महासागर में आयी सुनामी से बुरी तरह से प्रभावित हुआ था। इस समय इस नगर में बहुत सी विकास परियोजनाएँ चल रही हैं जिसमे जिसमे बन्दरगाह ...

                                               

1967 नाथू ला और चो ला संघर्ष

चोला और नाथूला पास पर 1967 में हुई 10 दिन की लड़ाई में चीन को करारी हार मिली थी। उसके 190300 से अधिक सैनिक मारे गए थे जबकि भारत को सिर्फ़ 165 सैनिकों का नुक़सान उठाना पड़ा था।i

                                               

ब्रूक्स-भगत रपट

ब्रूक्स-भगत रपट 1962 के भारत-चीन युद्ध से सम्बन्धित गोपनीय रपट है जिसे भारतीय सेना के दो अधिकारियों - लेफ्टिनेन्ट जनरल हेण्डर्सन ब्रुक्स और ब्रिगेडियर प्रेमिन्दर सिंह भगत, ने तैयार किया था। यह रपट दो भागों में थी जिसका प्रथम भाग २०१४ में आस्ट्रेल ...

                                               

रेज़ांग ला

रेज़ांग ला भारत के लद्दाख़ क्षेत्र में चुशूल घाटी के दक्षिणपूर्व में उस घाटी में प्रवेश करने वाला एक पहाड़ी दर्रा है। यह २.७ किमी लम्बा और १.८ किमी चौड़ा है और इसकी औसत ऊँचाई १६,००० फ़ुट है।

                                               

कारगिल युद्ध के शहीदों की सूची

कारगिल युद्ध के वीर यादव शहीदों की सूची वीरेन्द्र सिंह भगवान सिंह शीशराम गिल गणपत सिंह ढाका वेद प्रकाश राज कुमार विनोद कुमार रणवीर सिंह प्रभु राम मेजर मुकेश

                                               

आसल उत्ताड़ का युद्ध

साँचा:Campaignbox Indo-Pakistani War of 1965 साँचा:Campaignbox भारत पाक युद्ध आसल उत्ताड़ का युद्ध पंजाबी: ਆਸਲ ਉਤਾੜ१९६५ के भारत-पाक युद्ध के दौरान लड़ा गया सबसे बड़ा टैंक युद्ध था। यह युद्ध 8 से 10 सितंबर, 1965 के दौरान लड़ा गया था जब पाकिस्तानी ...

                                               

ऑपरेशन चंगेज़ खान

ऑपरेशन चंगेज़ खान ३ दिसम्बर १९७१ को भारतीय वायु सेना के अग्रणी युद्धपोतों और राडापर पाकिस्तानी वायु सेना द्वारा अचानक से किये गये हमले के कुटशब्द थे। यह १९७१ के भारत-पाक युद्ध की औपचारिक शुरुआत थी। यह ऑपरेशन ११ भारतीय हवाई-क्षेत्रों और कश्मीर में ...

                                               

ऑपरेशन पायथन

ऑपरेशन पायथन, ऑपरेशन ट्राइडेंट का अनुवर्ती, 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान भारतीय नौसेना द्वारा पाकिस्तान के बंदरगाह शहर कराची पर किगए नौसेना के हमले का कूट नाम था। भारत द्वारा कराची बन्दरगाह पर ऑपरेशन ट्राइडेंट के तहत किये गये पहले हमले क ...

                                               

बसंतसर का युद्ध

बसन्तर का युद्ध भारत-पाक युद्ध 1971 के समय भारतीय एवं पाकिस्तानी सेनाओं के बीच पश्चिमी सीमा पर लड़ा गया एक महत्त्वपूर्ण युद्ध था। यह युद्ध बसन्तर नदी के क्षेत्र में हुआ था जो पाकिस्तान में है। इस भयंकर युद्ध में भारतीय सैनिक विजयी हुए थे।

                                               

बानदुंग

बानदुंग इण्डोनेशिया के पश्चिम जावा प्रान्त का सबसे बड़ा शहर और राजधानी है। इसके महानगर क्षेत्र में सन् 2015 में 84.95.928 निवासी थे, जिसके आधापर यह इण्डोनेशिया का दूसरा सबसे बड़ा महानगर क्षेत्र था। केन्द्रीय शहर की आबादी 25 लाख है जिसके अनुसार यह ...

                                               

मानदो

मानदो, इंडोनेशिया के उत्तरी सुलावेसी प्रांत की राजधानी है। मानदो, मानदो की खाड़ी में स्थित है और चारों ओर से पहाड़ियों से घिरा हुआ है। शहर की जनसंख्या 405715 है, जो इसे सुलावेसी द्वीप का मकास्सर के बाद दूसरा सबसे बड़ा शहर बनाती है। मानदो की नगर प ...

                                               

दिल्ली में विदेशी खाना

कुछ दशक पहले तक पिज्जा, पास्ता या हैमबर्गर का नाम नहीं सुना था लोगों ने, लेकिन आज ये चीजें खूब लोकप्रिय हो चुकी हैं। इसका सबसे बड़ा कारण है दिल्लीवालों का खाने के प्रति शौक। दिल्ली भारत का दिल है इसलिए भारत के हर हिस्से के लजीज व्यंजन यहां सुलभ ह ...

                                               

पराठे वाली गली

पराठे वाली गली य़ा गली पराठे वाली, एक सकरी गली चाँदनी चौक नामक प्रसिद्ध बाज़ार मे जो की दिल्ली में स्थित है। वहां काफी पुरानी पराठे बनाने वाली दुकाने हैं। यह एक भारतीय रोटी का विशिष्ट रूप है। यह व्यंजन उत्तर भारत में जितना लोकप्रिय है, लगभग उतना ...