ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 430




                                               

कोरबा

कोरबा छत्तीसगढ़ राज्य के कोरबा जिला का मुख्यालय है। यह छत्तीसगढ़ की ऊर्जाधानी भी कहलाती है, क्योंकि यहां छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत उत्पादन कंपनी और एनटीपीसी के अलावा कई निजी कंपनियों के विद्युत संयंत्र संचालित हैं। यहां की पहचान एशिया के सबसे बड़े ...

                                               

कोरिया (छत्तीसगढ़)

छत्तीसगढ़ राज्‍य के उत्तर-पश्चिम भाग में स्थित कोरिया 5978 वर्ग कि॰मी॰ क्षेत्र में फैला है। यहां के झरने और प्राकृतिक सुन्‍दरता पर्यटकों को बरबस ही अपनी ओर आर्कषित कर लेती है। पूर्व में यह जिला सरगुजा जिले का एक भाग था। जिसे कोरिया स्‍टेट के नाम ...

                                               

खैरागढ़

खैरागढ़ राज्य ब्रिटिश भारत के पूर्व मध्य प्रांतों का एक सामंती राज्य था। पन्दद खैरागढ़ से 8 किलोमीटर छत्तीसगढ़ के सबसे ऐतिहासिक स्थानों में से एक है। यहां के प्रमुख को, जो पुराने नागवंश राजपूतों के शाही परिवार से सम्बंधित थे, को 1898 में एक वंशान ...

                                               

गरियाबंद

गिरि या पर्वत से घिरे होने के कारण इसका नाम गरियाबन्द हुआ पहले इसका नाम गिरीबन्द था बाद में गरियाबंद कर दिया गया । मान्यता है कि पुरी के भगवान जगन्नाथ को भोग लगाने के लिये चावल इस जिले के देवभोग से भेजा जाता था। गरियाबन्द आदिवासी बाहुल्य जिला है। ...

                                               

गिरौदपुरी

गिरौदपुरी में सतनामीयों के गुरु बाबा घासीदास का जन्म स्थल है। यहाँ साल में दो बार - दिसम्बर और मार्च - में मेला होता है। यहाँ बहुत ऊँचा जैतखम्ब का निर्माण किया गया है। प्राकृतिक सौन्दर्य छातापहाड़ आदि दर्शनीय है।

                                               

गीदम

गीदम दंतेवाड़ा से 12 किमी की दूरी पर स्थित है। दंतेवाड़ा, जिला मुख्यालय के पूर्व में, निकटतम हवाई अड्डा जगदलपुर है। रेलवे स्टेशन - गीदम लाइन सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन है। राष्ट्रीय राजमार्ग 63 ​​गीदम के माध्यम से गुजरता है।

                                               

छुईखदान

छुईखदान, छत्तीसगढ़ के राजनांदगाँव की एक नगर पंचायत है। यह मध्य प्रदेश का भूतपूर्व राज्य था; इसका क्षेत्रफल 154 वर्ग मील था। यह भूभाग उपजाऊ मैदान हैं। इसमें 107 गाँव थे। छुई खदान नगर प्रधान कार्यालय है। यह दक्षिण-पूर्व रेलवे के राजनाँदगाँव स्टेशन ...

                                               

डौंडीलोहारा

डौंडी लोहारा भारतीय राज्य छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में एक कस्बा और नगर पंचायत क्षेत्र है। यहाँ की कुल जनसंख्या लगभग छह हजार है। यह कस्बा इसी नाम की तहसील का मुख्यालय भी है।

                                               

दुर्ग

शत्रु से सुरक्षा के लिए बनाए जानेवाली बिल्डिंग के लिए किला देखें दुर्ग भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के दुर्ग ज़िले में स्थित एक नगर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है। शिवनाथ नदी के पूर्वी तट पर स्थित दुर्ग शहर के बीचोबीच से राष्ट्रीय राजमार्ग ६ गुजरती ...

                                               

देवभोग

देवभोग भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के गरियाबंद ज़िले में स्थित एक नगर है। प्रशासनिक रूप से यह एक तहसील का दर्जा रखता है। यह ओड़िशा की सीमा के पास स्थित है।

                                               

धमतरी

धमतरी भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के धमतरी ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले का मुख्यालय भी है। धमतरी राज्य की राजधानी, रायपुर, से लगभग 65 किमी दक्षिण में स्थित है। राष्ट्रीय राजमार्ग 30 इस नगर से गुज़रता है। धमतरी एक मैदानी क्षेत्र में महानदी के क ...

                                               

नया रायपुर

नया रायपुर, आधिकारिक नाम नवा रायपुर अटल नगर, भारतीय राज्य छत्तीसगढ़ का एक शहर है। इसे राज्य के राजधानी शहर के रूप में बदलने की योजना है। यह वर्तमान रायपुर से २४ किमी दूर बसाया गया एक नया शहर है, जो राष्ट्रीय राजमार्ग ५३ तथा ३० के बीच में स्थित है।

                                               

पत्थलगाँव

पत्थलगाँव भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के जशपुर ज़िले में स्थित एक नगरपंचायत है। यहाँ से राष्ट्रीय राजमार्ग ४३ गुज़रता है और राष्ट्रीय राजमार्ग १३०ए का पूर्वी अन्त यहाँ स्थित है।

                                               

पिपरिया, कबीरधाम

पिपरिया, छत्तीसगढ़ के कबीरधाम जिले की एक नगर पंचायत है। यह राजधानी रायपुर से 103 किलोमीटर पश्चिम की ओर एवं जिला कबीरधाम से 13 किलोमीटर दूर पूर्व की ओर स्थित एक सुरम्य नगर है। पिपरिया शहर सन् 2008 में नगर पंचायत के रूप में अस्तित्व में आया । यह नग ...

                                               

फिंगेश्वर

फिगेश्वर नगरी एक पुरातात्विक महत्व की नगरी है। यह छतीसगढ़ के छत्तीस गढों में से एक स्वतंत्र गढ रहा है। यह नगर अभी छ्त्तीसगढ के नवीन जिला गरियाबन्द के 5 विकासखण्डो में से एक है। यहाँ फणिकेश्वरनाथ महादेव का प्राचीन मन्दिर है। मन्दिर में प्राचीन शैल ...

                                               

बालोद

बालोद भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के बालोद ज़िले में स्थित एक नगर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है। यह तान्दुला नदी के किनारे बसा हुआ मुख्य नगर है।

                                               

बिलासपुर, छत्तीसगढ़

बिलासपुर भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के बिलासपुर ज़िले में स्थित एक नगर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है।तथा प्रशाशनिक एवं शहरी दोनों रूपों से छत्तीसगढ़ का दुुुुसरा सबसे बड़ा शहर है तथा इसे न्यायधानी होनेें का गौरव भी प्राप्त है। बिलासपुर मेें छत्ती ...

                                               

बेमेतरा

बेमेतरा छत्तीसगढ़ का एक शहर हैं, जो दुर्ग जिले से अलग होकर नए जिले के रूप में १४ जनवरी २०१२ को अस्तित्व में आया। यह जिला मूल रूप से अपने उन्हारी उत्पादन के लिए पुरे एशिया में विख्यात हैं। यहाँ चना का अत्यधिक उत्पादन होता है। बेमेतरा जिला कृषि से ...

                                               

भानु प्रतापपुर

भानुप्रतापपुर भारतीय राज्य छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में एक शहर और एक अधिसूचित क्षेत्र परिषद है। यह छत्तीसगढ़ विधान सभा के नामांकित विकास खंड, तहसील और निर्वाचन क्षेत्र का मुख्यालय भी है। इस शहर का नाम पूर्ववर्ती कांकेर रियासत के अंतिम शासक राजा भ ...

                                               

भिलाई

भिलाई शहर करीबन भारत के मध्य में बसा है। 1003406 की जनसंख्या के साथ, भिलाई भारत के छत्तीसगढ़ राज्य का तीसरा बड़ा शहर है। मुम्बई-नागपुर-बिलासपुर-कोलकाता राष्ट्रीय राजमार्ग 6 पर स्थित, छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से लगभग 30 किलोमीटर पश्चिम में भारत ...

                                               

मल्हार, छत्तीसगढ़

मल्हार भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के bilaspur ज़िले में स्थित एक नगर है। यहाँ कई प्राचीन मंदिरों के अवशेष मिलते हैं और यह एक महत्वपूर्ण पुरातत्व स्थल है प्राचीन काल में यह शिक्षा का प्रमुख केंद्र रहा है भारतवर्ष की सबसे प्राचीन मूर्ति है जो मंदिर सं ...

                                               

महेंद्रगढ़, छत्तीसगढ़

मनेंद्रगढ़ भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के कोरिया ज़िले में स्थित एक छोटा-सा शहर व नगरपालिका है। यहाँ से राष्ट्रीय राजमार्ग ४३ गुज़रता है। मनेंद्रगढ़ मध्य प्रदेश राज्य की सीमा के समीप स्थित है।

                                               

मुंगेली

मुंगेली भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के मुंगेली ज़िले में स्थित एक छोटा-सा नगर है। यह उस ज़िले का मुख्यालय भी है। राष्ट्रीय राजमार्ग १३०ए यहाँ से गुज़रता है।

                                               

रतनपुर, छत्तीसगढ़

रतनपुर छत्तीसगढ़ राज्य के बिलासपुर जिले की एक नगर पालिका है। विशेष*-अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ आंदोलन की शुरुआत तत्कालीन बिलासपुर जिले में रतनपुर से ही हुई थी पण्डित कपिल नाथ द्विवेदी एव वैष्णव बाबाजी के नेतृत्व में वन्देमातरम, भारत माता के जयघोष क ...

                                               

राजनांदगाँव

राजनंदगांव भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के राजनंदगाँव जिले का मुख्य शहर है। 2011 की जनगणना के अनुसार यहाँ की जनसँख्या 1.63.122 है। यह दक्षिण-पूर्वी रेलवे के मुंबई-हावड़ा मार्ग पर स्थित है। राष्ट्रीय राजमार्ग 6 राजनंदगाँव से होकर गुजरती है। यहाँ से निक ...

                                               

राजिम

राजिम भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के गरियाबंद ज़िले में स्थित एक नगरपंचायत है। राजिम महानदी के तट पर स्थित का प्रसिद्ध तीर्थ है। इसे छत्तीसगढ़ का "प्रयाग" भी कहते हैं।

                                               

विश्रामपुर

विश्रामपुर भारत के छत्तीसगढ़ राज्य क सरगुजा जिले में स्थित एक नगर पंचायत है। यहाँ की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से कोयले की खदान पर आधारित है। दक्षिण पुर्वीय कोलक्षेत्र प्राइवेट लिमिटेड ने नगर को बसाया है तथा यहाँ के लगभग समस्त आवासीय परिसर इसी के द् ...

                                               

सरायपाली

सरायपाली एक बहुत ही शांत पहाड़ और जंगलों से घिरा ओड़िशा की सीमा से लगा हुआ है। मध्यप्रदेश के पहले मुख्यमंत्री स्वं. पं. रविशंकर शुक्ल सरायपाली निवार्चन क्षेत्र से चुने गए थे। सरायपाली नगर छत्तीसगढ़ के पूर्वी सीमा क्षेत्र में स्थित मुख्य नगर है। न ...

                                               

सारंगढ़

सारंगढ़ एक प्रकार से बहुत बड़ा शहर है क्योंकि इस सारंगढ़ तहसील में सबसे पहले राजाओं का शासन काल था और यहाँ बहुत अधिक सँख्या में जमीनें और शासनिक शक्ति था। माना गया है कि यहाँ बाबा घासीदास के ग्यान भूमि के नाम से भी जाना जाता है। तथा इस क्षेत्पर स ...

                                               

सीपत

सीपत भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के बिलासपुर ज़िले में स्थित एक नगर है। राष्ट्रीय राजमार्ग १३०ए यहाँ से गुज़रता है। सीपत में एक ऊष्मीय शक्ति संयंत्र स्थित है।

                                               

सुकमा

सुकमा राष्ट्रीय राजमार्ग 221 से जगदलपुर के लिए जुड़ा हुआ है। राज्य के दक्षिण में उड़ीसा के मलकानगिरि जिले और आंध्र प्रदेश के साथ जिला सीमाओं से लगा हुआ है। 1 जनवरी 2012 को दंतेवाड़ा जिला से अलग होकर सुकमा जिले का गठन हुआ है। सुकमा जिले में 3 तहसी ...

                                               

सूरजपुर

सूर्य कान्त त्रिपाठी निराला विद्यालय नवोदय विद्यालय शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय साधू राम विद्या मन्दिर पंडित विश्वनाथ विद्यालय शासकीय आदर्श बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सरस्वती शिशु मन्दिर

                                               

अखनूर

अखनूर एक पुरातात्विक स्थल है और जम्मू और कश्मीर, भारत में जम्मू क्षेत्र में एक नगरपालिका समिति है। यह जम्मू से 28 किलोमीटर दूर हिमालय की तलहटी में स्थित है। यह शहर चिनाब नदी के तट पर स्थित है। अखनूर को तीन प्रशासनिक उप-डिवीजनों में विभाजित किया ग ...

                                               

अवन्तिपोरा

अवन्तिपोरा राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पुराना नाम राष्ट्रीय राजमार्ग 1ए अनन्तनाग और श्रीनगर के मध्य में पड़ता है। अवन्तिपोरा का नाम राजा अवन्ति वर्मन के नाम पर पड़ा जिन्होंने यहाँ पर अवंती स्वामी मंदिर सहित कई एतेहासिक हिन्दू मन्दिर बनवाये। राजा ललिताद ...

                                               

उधमपुर

उधमपुर भारत के जम्मू और कश्मीर प्रदेश का एक नगर है। यह उधमपुर जिले का मुख्यालय भी है। यह राष्ट्रीय राजमार्ग 1ए पर जम्मू और श्रीनगर के बीच स्थित है। हिन्दुओं का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल वैष्णो देवी उधमपुर के निकट है। उधमपुर में भारत की सबसे लंबी सुरं ...

                                               

कंगन, गान्दरबल

कंगन भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के अनन्तनाग ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है। कंगन सिन्द नाले नामक नदी की तंग घाटी में 50 किमी तक नदी के दोनो तरफ़ फैला हुआ है और उस नदी की वादी में स्थित सबसे बड़ी बस्ती है। यह 1.8 ...

                                               

कईमोह

कईमोह, जिसे कभी-कभी कईमुह भी कहा जाता है, भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के कुलगाम ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है।

                                               

कटड़ा

कटड़ा भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के रियासी ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है। कटरा को कटरा वैश्णो देवी के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ से वैष्णो देवी की यात्रा शुरु होती है। यह रियासी जिले का एक भाग है और जम्मू शहर ...

                                               

कठुआ

कठुआ जम्मू व कश्मीर का एक नगर है। कठुआ शब्द डोगरी भाषा के ठुआं से व्युत्पन्न है, जिसका अर्थ बिच्छू है। कुछ लोगों का मत है कि कठुआ शब्द कश्यप ऋषि के नाम से उत्पन्न हुआ है। यह नगर जम्मू काश्मीर का प्रवेश द्वार तथा औद्योगिक नगर भी है। कठुआ, जम्मू से ...

                                               

करनाह

करनाह भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के कुपवाड़ा ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है। इस तहसील में 42 गाँव सम्मिलित हैं और करनाह शहर ज़िले के मुख्यालय, कुपवाड़ा, से 78 किमी की दूरी पर है।

                                               

काज़ीगुंड

काज़ीगुंड, भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के अनंतनाग ज़िले में एक नगर है। जम्मू से श्रीनगर के मुख्य मार्ग में पीर पंजाल पर्वतमाला को बनिहाल दर्रा द्वारा पार करा जाता है, जिसमें बनिहाल जम्मू विभाग का अंतिम और काज़ीगुंड कश्मीर विभाग का पहला पड़ाव है ...

                                               

कारगिल

कारगिल लद्दाख़ का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। वैसे यह स्थान मुख्य से बौद्ध पर्यटन केंद्र के रूप में प्रसिद्ध है। यहां बौद्धों के कई प्रसिद्ध मठ स्थित है। मठों के अतिरिक्त यहां कई अन्य चीजें भी घूमने लायक है। यहां की प्राकृतिक सुंदरता पर्यटकों को अप ...

                                               

कुद

कुद भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के उधमपुर ज़िले की एक बस्ती है। यह राष्ट्रीय राजमार्ग ४४ पर जम्मू से श्रीनगर जाते हुए उधमपुर से ३४ किलोमीटर बाद आता है और जम्मू से लगभग १०० किमी दूर है। यह 1855 मीटर की ऊँचाई पर चेनाब नदी के किनारे बसा हुआ है। कु ...

                                               

कुपवाड़ा

कुपवाड़ा जम्मू एवं कश्मीर राज्य का एक नगर है। यह कुपवाड़ा ज़िले का केन्द्र भी है। कुपवाड़ा पीरपंजाल और शम्सबरी पर्वत के मध्य स्थित है। समुद्र तल से 5.300 मीटर ऊंचाई पर स्थित यह नगर ऐतिहासिक दृष्टि से भी स्थान काफी प्रसिद्ध है। यहां की प्राकृतिक स ...

                                               

कुलगाम

कुलगाम भारतीय राज्य जम्मू और कश्मीर का एक कस्बा व कुलगाम ज़िले का मुख्यालय है। यह कस्बा राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर से 67 किमी दूर है। यह कस्बा 16 चुनावी निकायों में विभाजित है जिसकी जनसंख्या 23.584 है जिसमे 12.605 पुरुष तथा 10.979 महिल ...

                                               

कोकरनाग

कोकरनाग, जिसे ब्रंग कोकरनाग भी कहा जाता है, भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के अनन्तनाग ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है।

                                               

क्रीरी

क्रीरी भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के बारामूला ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है। क्रीरी तहसील में 15 गाँव सम्मिलित हैं।

                                               

गंदोह

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर ज़िले में इस से मिलते-जुलते नाम के नगर के लिए गंगोह का लेख देखें गंदोह, जिसे भलेसा भी कहा जाता है, भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के डोडा ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा भी रखता है।

                                               

गान्दरबल

गान्दरबल भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के अनन्तनाग ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले में तहसील का दर्जा रखता है और ज़िले का मुख्यालय भी है।

                                               

गुरेज़

गुरेज़ या गुरेइस, जिसे स्थानीय शीना भाषा में गोराई कहते हैं, भारत के जम्मू व कश्मीर राज्य के बांडीपूर ज़िले में स्थित एक शहर है। लगभग ८,००० फ़ुट की ऊँचाई पर बसा यह शहर बर्फ़-ढकी पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यह उत्तरी कश्मीर का भाग है और यहाँ बसने वा ...