ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 455




                                               

महमूद द्वितीय

महमूद द्वितीय उस्मानी साम्राज्य के 30वें सुल्तान थे, 1808 से 1839 में उनकी मौत तक उनका शासनकाल रहा। उनके शासन व्यापक प्रशासनिक, सैन्य, और वित्तीय सुधार के लिए पहचाना जाता है। इसका मुख्य नतीजा "तंज़ीमात का फ़रमान" था। उनके दौर में 1826 का यनीचरी स ...

                                               

महमूद प्रथम

मुग़ल साम्राज्य पर नादिर शाह के विध्वंसकारक आक्रमण की वजह से, ईरान की पश्चिमी सरहद्दें काफ़ी असुरक्षित रह गईं थीं। सुल्तान महमूद प्रथम की अध्यक्षता में उस्मानी साम्राज्य ने ये असुरक्षित सरहद्दों का फ़ायदा उठाया और पूर्ण बल के साथ ईरान के उन पश्चि ...

                                               

मुराद चतुर्थ

मुराद चतुर्थ 1623 से 1640 तक उस्मानिया साम्राज्य के सुल्तान रहे। उन्होंने राज्य पर सुल्तान के शासन की पुनःस्थापना की थी और उन्हें अपने गतिविधियों की क्रूरता के लिए जाने जाते हैं। उनका जन्म क़ुस्तुंतुनिया में हुआ था। वे सुल्तान अहमद प्रथम और यूनान ...

                                               

मुराद पंचम

मुराद पंचम 30 मई से 31 अगस्त 1876 तक उस्मानी साम्राज्य के सुल्तान रहे। उनका जन्म चरान महल, ओर्ताकोय, क़ुस्तुंतुनिया में हुआ था। उनके पिता अब्दुल मजीद प्रथम थे। उनकी माँ शौकफ़्ज़ा वालिदा सुल्तान थी, वे चरकस मूल से थी।

                                               

मुस्तफ़ा चतुर्थ

मुस्तफ़ा चतुर्थ 1807 से 1808 तक उस्मानी साम्राज्य के सुल्तान रहे। उनका जन्म क़ुस्तुंतुनिया में हुआ था। वे अब्दुल हमीद प्रथम और सनापरवर सुल्तान के बेटे थे।

                                               

मुस्तफ़ा तृतीय

मुस्तफ़ा तृतीय 1757 से 1773 तक उस्मानी साम्राज्य के सुल्तान रहे। वे अहमद तृतीय के बेटे थे और इनके शासनकाल के बाद उनके भाई अब्दुल हमीद प्रथम उस्मानी राजगद्दी पर आसीन हुए। उनका जन्म अदरना महल में हुआ। इनकी माता महरेशाह क़ादन थी।

                                               

मुस्तफ़ा द्वितीय

उनका जन्म आदरना महल में हुआ था। उनके पिता महमद चतुर्थ थे और उनकी माता यूनानी मूल की राबिया गुलनुश सुल्तान थीं। 1703 में मुस्तफ़ा द्वितीय ने तख़्तोताज अपने भाई अहमद तृतीय 1703–30 के नाम पर त्याग दिया।

                                               

सलीम तृतीय

सलीम तृतीय 1789 से 1807 तक उस्मानी साम्राज्य के सुल्तान रहे। अपने सुधारवादी नीतियों की वजह से यनीचरियों ने उन्हें बंदी बना लिया और अंत में उनकी हुकूमत को तख़्तापलट किया गया था। बाद में यनीचरियों ने उनके चचेरे भाई मुस्तफ़ा चतुर्थ को तख़्त पर बिठा ...

                                               

सुलेमान द्वितीय

सुलेमान द्वितीय 1687 से 1691 तक उस्मानी साम्राज्य के सुल्तान रहे। सैन्य कार्रवाई में इन्हें तख़्त पर बिठाया गया। सुलेमान और उनके वज़ीर-ए-आज़म कोप्रुलु फ़ाज़िल मुस्तफ़ा पाशा पवित्र लीग की शक्तियों के ख़िलाफ़ युद्ध में उस्मानियों के पराजित होने के ...

                                               

स्वराज (पुस्तक)

स्वराज सामाजिक कार्यकर्ता अरविन्द केजरीवाल द्वारा लिखी गयी एक पुस्तक है। इस पुस्तक में भारतीय लोकतान्त्रिक ढाँचे में बदलाव लाने एवं वास्तविक स्वराज के लाने का रास्ता दिखाया गया है।

                                               

नरेन्द्र मोदी का शपथ ग्रहण समारोह

भारतीय जनता पार्टी के संसदीय अध्यक्ष नरेन्द्र मोदी का २६ मई २०१४ से भारत के १५वें प्रधानंत्री का कार्यकाल आरम्भ हुआ। मोदी के साथ ४५ अन्य मंत्रियों ने भी समारोह में पद और गोपनीयता की शपथ ग्रहण की। मोदी सहित कुल ४६ में से ३६ मंत्रियों ने हिन्दी में ...

                                               

नरेन्द्र मोदी की सार्वजनिक छबि

मोदी शाकाहारी हैं और मितव्ययी जीवन जीते हैं। वे सदा काम करने वाले और अन्तर्मुखी व्यक्ति हैं। वे हिन्दू धर्म के अनुयायी हैं तथा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं।

                                               

नरेन्द्र मोदी द्वारा किए गए अंतरराष्ट्रीय प्रधानमन्त्रीय यात्राओं की सूची

२०१४ के आम चुनाव के बाद नरेन्द्र मोदी पहली बार भारत के प्रधान मंत्री बने। इसके बाद 2019 आम चुनाव में वे पुनः चुने गए। मार्च 2020 तक, उन्होंने 52 विदेश यात्राएँ की हैं, और 59 देशों की यात्रा की है। इसमें संयुक्त राष्ट्र महासभा, और ऐक्ट ईस्ट पॉलिसी ...

                                               

मन की बात

मन की बात आकाशवाणी पर प्रसारित किया जाने वाला एक कार्यक्रम है जिसके जरिये भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भारत के नागरिकों को संबोधित करते हैं। इस कार्यक्रम का पहला प्रसारण 3 अक्तूबर 2014 को किया गया। जनवरी 2015 में अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ...

                                               

नारायण गणेश चंदावरकर

नारायण गणेश चंदावरकर), प्रार्थना समाज के संस्थापकों में थे और भक्तिसंप्रदाय पर उनका बड़ा विश्वास था। वे भारत के पर्मुख समाज सुधारक थे। इनका जन्म गौड़ सारस्वतों में हुआ। बचपन में पढ़ने के लिये बंबई भेजे गए ओर वहीं के निवासी बन गए। सन् 1879 में एल- ...

                                               

नेली सेनगुप्त

नेली सेनगुप्त एक अंग्रेज महिला थीं जिन्होने भारत की स्वतन्त्रता के लिये संघर्ष किया। वे यतीन्द्र मोहन सेनगुप्त की पत्नी थीं। १९३३ के कोलकाता अधिवेशन में वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की सभापति चुनी गयीं।

                                               

सत्येन्द्र प्रसन्न सिन्हा

सत्येंद्र प्रसाद सिन्हा बंगाल के एडवोकेट जनरल थे। वह पहले भारतीय थे जिन्होंने बाइसरॉय की काउंसिल में कानून सदस्य के रूप में प्रवेश करने का सम्मान प्राप्त किया। प्रथम महायुद्ध के पश्चात्‌ श्री सिन्हा को लॉर्ड की उपाधि दी गई तथा वह अंडर सेक्रेटरी ऑ ...

                                               

इन्दौर विकास प्राधिकरण

इंदौर विकास प्राधिकरण, इंदौर के महानगरीय क्षेत्र की नगरीय नियोजन सेवा की एजेन्सी है। यह मध्य प्रदेश के शहर और ग्रामीण योजना अधिनियम,1973 के अन्तर्गत १९७३ मे स्थापित किया गया था। इसका मुख्यालय 7, रेस कोर्स रोड, इन्दौर है।

                                               

कोलकाता महानगर विकास प्राधिकरण

कोलकाता महानगर विकास प्राधिकरण भारत के पश्चिम बंगाल राज्य के कोलकाता महानगर क्षेत्र में विकास योजनाएँ व कार्य करने के लिए अधिकृत सरकरी संगठन है। यह पश्चिम बंगाल सरकार के अधीन है।

                                               

मुम्बई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण

मुम्बई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण भारत के महाराष्ट्र राज्य के मुम्बई महानगरीय क्षेत्र में विकास योजनाएँ व कार्य करने के लिए अधिकृत सरकरी संगठन है। यह महाराष्ट्र सरकार के अधीन है।

                                               

.भारत

.in भारत का इंटरनेट का शीर्ष-स्तर डोमेन देश कोड है। डोमेन का संचालन आईएनरजिस्ट्री द्वारा नेशनल इंटरनेट एक्साचेंज ऑफ इंडिया के प्राधिकरण के अन्तर्गत होता है। आइएनरजिस्ट्री को भारत सरकार द्वारा नियत किया गया। वर्ष २००५ तक.in डोमेन की उदारीकृत नीति ...

                                               

भारती इंटरप्राइजेज

भारती इंटरप्राइजेज, एक विशाल भारतीय व्यापारिक समूह है जिसका मुख्यालय भारत के नई दिल्ली में स्थित है, जहाँ से इसका संचालन संपूर्ण भारत और कुछ अन्य देशों में भी किया जाता है, जैसे श्री लंका, बांग्लादेश, जर्सी, गर्नसी और सेशेल्स; और साथ ही अफ्रीका क ...

                                               

दिल्ली विश्‍वविद्यालय के भूतपूर्व छात्रों की सूची

दिल्ली विश्‍वविद्यालय एक सार्वजनिक केन्द्रीय विश्वविद्यालय है जो भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित है। विश्‍वविद्यालय भारत सरकार द्वारा वित्त पोषित किया जाता तथा इसके कुलपति का पद भारत के उपराष्ट्रपति के पास होता है। दिल्ली विश्वविद्यालय के दो परि ...

                                               

अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान, बरेली

इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी संस्थान, बरेली उत्तर प्रदेश, बरेली में राज्य सरकार द्वारा वित्त पोषित इंजीनियरिंग कॉलेज है। यह एम॰जे॰पी॰ रोहिलखंड विश्वविद्यालय के परिसर में स्थित है। यह बिहार प्रान्त में स्थित प्रतिष्ठित अभियांत्रिकी संस्थानों में से ...

                                               

सूर्यप्रसाद दीक्षित

डॉ सूर्यप्रसाद दीक्षित हिन्दी भाषा व साहित्य के विद्वान तथा लखनऊ विश्वविद्यालय के हिन्दी एवं आधुनिक भाषा के पूर्व विभागाध्यक्ष हैं। उनका जन्म उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले के बन्नावाँ में १९३८ में हुआ था। वे लखनऊ, इलाहाबाद, सागर, बड़ौदा, उज्जैन, ...

                                               

इंडियन स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज

अन्तरराष्‍ट्रीय अध्ययन संस्थान जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय का सबसे पुराना संस्थान है। इतने लम्बे समय से अन्तरराष्‍ट्रीय संबंधों और क्षेत्रीय अध्ययन के शिक्षण एवं शोध में संलग्न इस संस्थान ने अपने आपको पूरे देश में एक अग्रणी संस्थान के रूप में स ...

                                               

भारतीय भाषा केन्द्र (जे॰एन॰यू॰)

भारतीय भाषा केन्द्र जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के भाषा, साहित्य और संस्कृति अध्ययन संस्थान में भारतीय भाषाओं के अध्ययन का एक विभाग है। वर्तमान में इसके अंतर्गत हिन्दी, उर्दू और हिन्दी अनुवाद से संबंधित अध्ययन-अध्यापन और शोध किया जाता है।

                                               

भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अध्ययन संस्थान

भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अध्ययन संस्थान जेएनयू का सबसे बडा स्कूल है। यह निम्न केन्द्रों में विभाजित है- भाषा-विज्ञान केन्द्र जर्मन अध्ययन केन्द्र अंग्रेजी अध्ययन केन्द्र भारतीय भाषा केन्द्र जापानी, कोरियाई व उत्तर-पूर्व एशियाई अध्ययन केन्द्र अर ...

                                               

बाबूराम सक्सेना

डॉ॰ बाबूराम सक्सेना भारत के एक भाषावैज्ञानिक थे। वे इलाहाबाद विश्वविद्यालय के संस्कृत विभागाध्यक्ष तथा एवं उपकुलपति रहे। १९६९ से १९७५ तक विज्ञान परिषद् प्रयाग के सभापति रहे।

                                               

चैटम हाउस

चैटम हाउस, जिसका औपचारिक नाम अंतर्राष्ट्रीय विषयों की शाही संस्थान लंदन में स्थित एक लाभ निरपेक्ष व अशासकीय संस्था जिसका उद्देश्य प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय और वर्तमान घटनाक्रमों का विशलेषण करना और उनको समझना है। इस संस्था में विश्वभर के बहुत जानेमाने ...

                                               

व्यावसायिक इंजिनियर

इंजीनियरी के क्षेत्र में नियन्त्रण और लाइसेंसिंग की जाती है ताकि जनता की सुरक्षा, कल्याण, आदि सुनिश्चित किये जा सकें। भारत में किसी विश्वविद्यालय से इंजीनियरी में बैचलर या मास्टर्स डिग्रीधारी ही सलाहकार इंजीनियर के रूप में काम कर सकते हैं। इसके स ...

                                               

औद्योगिक अभियान्त्रिकी

औद्योगिक इंजीनियरी इंजीनियरी की वह शाखा है जो जटिल प्रक्रमों तथा निकायों के इष्‍टतमीकरण से सम्बन्धित है। यह लोगों, धन, ज्ञान, सूचना, उपकरण, ऊर्जा, सामान आदि के एकीकृत निकाय के विकास, सुधार, कार्यान्वयन तथा मूल्यांकन से सम्बन्धित है।

                                               

अबाधित विद्युत आपूर्ति

अबाधित विद्युत आपूर्ति या यूपीएस एक ऐसा उपकरण होता है जो विद्युत से चलने वाले किसी उपकरण को उस स्थिति में भी सीमित समय के लिये विद्युत की समुचित आपूर्ति सुनिश्चित करता है जब आपूर्ति के मुख्य स्रोत से विद्युत आपूति उपलब्ध नहीं होती। यूपीएस कई प्रक ...

                                               

इन्वर्टर (शक्ति एलेक्ट्रानिकी)

शक्ति प्रतीपक या पॉवर इन्वर्टर एक ऐसी पॉवर सप्लाई को कहते हैं जो डीसी को एसी clotting with v guard में परिवर्तित करता है। इससे प्राप्त ए.सी. किसी भी और आवृत्ति की हो सकती है। इन्वर्टर को उच्च शक्ति का एलेक्ट्रानिक आसिलेटर की तरह समझा जा सकता है।

                                               

चर आवृत्ति ड्राइव

चर आवृत्ति ड्राइव एक प्रकार का परिवर्तनशील चाल ड्राइव है जो एसी मशीनों की चाल बदलने के लिये आजकल बहुतायत में प्रयोग की जाती है। चाल बदलने के लिये यह ड्राइव, मोटर को दी जाने वाली विद्युत-शक्ति का वोल्टता और आवृत्ति दोनो को साथ-साथ बदलता है । प्राय ...

                                               

डायोड

डायोड यह एक ऐसी युक्ति है । जिसमे विधुत धारा एक दिशा मे बहती है । द्विअग्र / द्वयाग्र एक वैद्युत युक्ति है। अधिकांशत: डायोड दो सिरों वाले होते हैं किन्तु ताप-आयनिक डायोड में दो अतिरिक्त सिरे भी होते हैं जिनसे हीटर जुड़ा होता है। डायोड कई तरह के ह ...

                                               

बैटरी एलिमिनेटर

बैटरी एलिमिनेटर एक एलेक्ट्रानिक युक्ति है जो प्राय: छोटे एलेक्ट्रानिक उपकरणों के लिये डीसी पैदा करता है और इसकी सहायता से बैटरी के बिना भी उस उपकरण को चलाया जा सकता है। इसीलिये इसका नाम "बैटरी एलिमिनेटर" पड़ा। यह प्राय: आम घरों में उपलब्ध एसी वोल ...

                                               

विद्युत प्रदायी

विद्युत शक्ति के किसी स्रोत को सामान्य रूप से विद्युत प्रदायी या विद्युत प्रदायक या पॉवर सप्लाई कहा जाता है। यह शब्द अधिकांशतः वैद्युत शक्ति आपूर्ति के सन्दर्भ में ही प्रयुक्त होता है; यांत्रिक शक्ति के सन्दर्भ में यह बहुत कम प्रयुक्त होता है; अन ...

                                               

स्विच मोड पॉवर सप्लाई

स्विच मोड पॉवर सप्लाई या एसएमपीएस उन शक्ति-परिवर्तकों को कहते हैं जिनमें पॉवर-कन्वर्शन के लिये किसी स्विच को उच्च आवृत्ति पर चालू-बन्द किया जाता है। इनकी दक्षता उन कन्वर्टरों से बहुत अधिक होती है जिन्हें रेखीय शक्ति आपूर्ति कहते हैं जिनमें किसी श ...

                                               

क्यूआर कोड

QR CODE क्या है यादृच्छिक रूप से रचित प्रतीत होते हैं एक QR कोड को पहचानने के लिए स्कैनर के लिए, कोड हमेशा चौकोर होना चाहिए। कई अतिरिक्त तत्व यह सुनिश्चित करते हैं कि जानकारी सही ढंग से पढ़ी जाए। काले और सफेद चेकर पिक्सेल पैटर्न पहली नज़र में एक ...

                                               

बारकूट

बारकूट किसी आंकड़े या सूचना को मशीन से पढ़े जाने योग्य रूप में निरुपित करने का एक प्रभावी तरीका है। अपने मूल रूप में बारकूट के लिये समान्तर रेखाओं एवं उनके बीच के अन्तराल का उपयोग किया जाता था। इस विधि को एकबिमिय बारकूट कह सकते हैं। बारकूटों को प ...

                                               

गुणनखण्ड

किसी वस्तु को अन्य वस्तुओं के गुणनफल के रूप में तोडने की क्रिया को गणित में गुणनखण्ड कहते हैं। किसी वस्तु के गुणनखण्डों को परस्पर गुणा करने पर वह मूल वस्तु पुनः प्राप्त हो जाती है। उदाहरण के लिये: १५ = ३ x ५ तथा, x 2 − 4 = x − 2 x + 2. P x = x 5 ...

                                               

महत्तम समापवर्तक

अंकगणित में दो पूर्णांकों a तथा b का महत्तम समापवर्तक या म.स., greatest common factor, greatest common denominator, or highest common factor) वह महत्तम संख्या होती है जो a तथा b दोनो को विभाजित कर सके। उदाहरण 8 और 12 का मस = 4 क्योंकि 8 और 12 दोन ...

                                               

लघुत्तम समापवर्त्य

अंकगणित में दो पूर्णांकों a तथा b का लघुत्तम समापवर्त्य या smallest common multiple) उस सबसे छोटी धनात्मक पूर्णांक संख्या को कहते हैं जो a तथा b दोनो से विभाजित हो सके। इस परिभाषा को दो से अधिक संख्याओं के लिये सामान्यीकृत कर सकते हैं। पूर्णांकों ...

                                               

विभाज्यता के नियम

विभाज्यता के नियम उन विधियों को कहते हैं जो सरलता से बता देते हैं कि कोई संख्या किसी दूसरी संख्या से विभाजित हो सकती है या नहीं। किसी भी आधार वाले संख्या-पद्धति के लिये ऐसे नियम बनाये जा सकते हैं किन्तु यहाँ केवल दाशमिक प्रणाली के संख्याओं के लिय ...

                                               

शून्य समता

शून्य एक सम संख्या है। अन्य शब्दों में इसकी समता - पूर्णांक का गुणधर्म जो उसका सम अथवा विषम होने का निर्धारण करता है - सम है। इसे सम संख्या सिद्ध करने का सबसे आसान तरिका यह है कि शून्य "सम" होने की परिभाषा में सटीक बैठता है: यह 2 का पूर्ण गुणज है ...

                                               

त्रिकोणमिति के उपयोग

त्रिकोणमिति के अनेक उपयोग होते हैं। पाठ्यपुस्तकों में भूमि सर्वेक्षण, जहाजरानी, भवन आदि का ही प्राय: उल्लेख किया गया होता है। इसके अलावा यह गणित, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी आदि शैक्षिक क्षेत्रों में भी प्रयुक्त होता है।

                                               

विमाहीन संख्याओं की सूची

रेनॉल्ड्स संख्या ओह्नसोर्ज संख्या प्रांटल संख्या वेबर संख्या रिचर्डसन संख्या ग्रासहॉफ़ संख्या पेक्लेट संख्या फ़्रॉड संख्या फूरियर संख्या एकर्ट संख्या नसेल्ट संख्या

                                               

ओपन फ़ोम

ओपन फ़ोम तरल और ठोसों के खंडों में विभक्त समीकरणों को हल करने के लिए प्रयुक्त एक मुक्त सॉफ़्टवेर है। इसकी विकासर २००० के दशक में यूके मे किया गया। यह c++ में लिखा गया और यह तरल गतिकी के आकलन में बहुत लोकप्रिय होता जा रहा है।

                                               

जी मेश

जीमेश एक मुक्त स्रोत सॉफ्टवेयर है जो फाइनाइट एलिमेण्ट विधि से किसी समस्या का सिमुलेशन करने के लिये आवश्यक कुछ चरणों से युक्त है। इसमें सॉलिड मॉडल बनाने, उसे मेश करने तथा समस्या के हल की पोस्ट-प्रोसेसिंग करने की सुविधा है। इसमें अभी हल करने की सुव ...